PM Swamitva Yojana 2020 Kya Hai और इसका फायदा क्या है जानें पूरी जानकारी।

What is Pradhanmantri swamitva yojana,benefits of prdhanmantri swamitva yojana
प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना

दोस्तों यदि आप गांव में रहते होंगे तो आपके मन में ये जरूर सवाल होगा कि आपके घर और जमीन किसके नाम है? अगर आपका पुराना मकान है तो आपको पता भी नहीं होगा कि आपके घर की रेजिस्टरी आपके पास है या नहीं है।

ज्यादातर गांवों में ऐसा देखने को मिलता है कि जो आवासीय जमीन होता है वो या तो किसी के नाम नहीं होता या फिर उस पर किसी का मालिकाना हक नहीं होता है।

इसी समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वामित्व योजना 2020 की शुरुआत की है। इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में लोगों को आवासीय जमीन का मालिकाना हक दिलाएगी।

आपको पता होगा कि ग्रामीण इलाकों में आज भी जो घर बने हुए हैं उनका कोई भी कागज आपके पास नहीं होगा जो साबित कर सके कि ये घर आपका है। अगर कल आपके ऊपर कोई केस दर्ज करें कि ये घर आपका नहीं है या फिर अगर है तो इसका रेजिस्टरी दिखाएं तो शायद आपके पास नहीं होगी।

उसी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने Pradhanmantri Swamitva Yojana 2020 को शुरू किया। जिसके तहत ग्रामीण इलाकों में आवासीय जमीन का मालिकाना हक आपको दिलाया जाएगा।

अभी तक आपने देखा होगा कि ग्रामीण इलाके में भले ही आपके पास 2 बीघा जमीन हो या फिर 5 बीघा जमीन हो उस जमीन पर आप कोई भी लोन नहीं ले सकते हैं और बैंक आपको लोन लेने से मना भी कर देता था।

वहीँ अगर हम शहरी इलाकों की बात करें तो अगर आपके पास शहरों में एक हजार स्क्वायर फिट में भी घर है तो आपको उस पर आसानी से दस-बीस लाख लोन मिल जाता है।

लेकिन आपके ग्रामीण इलाकों में दस बीघे जमीन होने के बावजूद भी बैंक आपको लोन देने से मना कर देता है क्योंकि आपके पास किसी भी तरह का प्रूफ या रेजिस्टरी नहीं होता है।

ये भी पढ़ें:- प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना क्या है और इसके 3 सबसे बड़े लाभ जानें।

लेकिन इस प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2020 के तहत आपको आपके जमीन का मालिकाना हक मिलेगा और आप गांव के जमीन पर भी लोन ले सकते हैं।

तो चलिए दोस्तों इस पोस्ट में प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या है और इसके तहत आपको कैसे लाभ मिलेगा इसके बारे में पूरी विस्तार से जानते हैं।

Pradhanmantri स्वामित्व योजना 2020 क्या है और इसे कब शुरू किया गया

PM Swamitva Yojana 2020 के तहत ग्रामीण इलाकों में लोगों को उनके जमीन का मालिकाना हक दिलाना है। इस योजना के मुख्य उद्देश्य सम्पति का रिकॉर्ड बनाना और उसका असली मालिकाना हक तय करना है।

क्या आप जानते हैं कि देश के 60% आबादी अभी भी गांवों में रहती है लेकिन अधिकतर लोगों के पास अपने घरों के मालिकाना हक के कागजात नहीं है।

अंग्रेजों के समय से ही गांव की खेतिहर जमीन का रिकॉर्ड तो रखा गया लेकिन घरों पर ध्यान नहीं दिया गया। कई राज्यों में गांव के रिहायशी इलाकों का सर्वे और मैपिंग तो हुआ लेकिन सम्पति के सत्यापन को ध्यान में रखकर नहीं हुआ।

इसका नतीजा ये हुआ कि कई घरों के सम्पति के कागजात मौजूद नहीं है। इसी कमी को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को शुरू किया गया है।

देश के सभी गांवों में लोगों के जमीन का मालिकाना हक दिलाने के लिए ड्रोन के द्वारा सभी जमीनों का मैपिंग किया जाएगा।

पंचायती राज दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 अप्रैल 2020 को स्वामित्व योजना की शुरुआत की थी। जिसमें जमीन का मालिकाना हक तय करने के लिए नई तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 11 अक्टूबर 2020 से स्वामित्व योजना के तहत सम्पति कार्ड वितरित करने की योजना शुरू की है।

इस कार्ड का वितरण सम्बंधित राज्य सरकारें करेगी। फिलहाल जिन एक लाख लोगों के ये कार्ड बन गए हैं उनमें उत्तर प्रदेश के 346 गांव, हरियाणा के 221 गांव, महाराष्ट्र के 100 गांव, उत्तराखंड के 50 और मध्य प्रदेश के 44 गांव शामिल है।

स्वामित्व योजना के तहत गांव के आवासीय जमीन का  लेखा जोखा ड्रोन की मदद से तैयार होगी। ड्रोन टेक्नोलॉजी के मदद से गांव के सिमा के भीतर आने वाली हर प्रोपर्टी का एक डिजिटल नक्शा तैयार किया जायेगा। साथ ही कौन सा घर कितने दूर में है इन सभी चीजों की जानकारी ड्रोन टेक्नोलॉजी से सटीकता से मापा जा सकेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 अक्टूबर 2020 को जननायक जयप्रकाश नारायण और नानाजी देशमुख के पुण्यतिथि पर एक लाख लोगों को इस योजना के तहत पहली बार देश के छः राज्यों के लोगों को लगभग एक लाख सम्पति कार्ड बांटे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में इस मौके पर सभी लाभार्थियों को बधाई दी और कहा- यह योजना गांव में ऐतिहासिक परिवर्तन लाने वाली है। प्रधानमंत्री ने ये भी कहा कि जिन लोगों को ये कार्ड मिलेगा उनसे उनका जमीन कोई भी नहीं छीन सकता है। यहाँ तक कि सरकार भी नहीं। इस जमीन पर बस आपका ही हक है और हमेशा रहेगा।

ये भी पढ़ें:- प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना क्या है और आपके लिए क्यों जरूरी है जानें पूरी जानकारी

दोस्तों आज हम इसी पर बात करेंगे कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या और इसके क्या लाभ है,स्वामित्व योजना के तहत कार्ड को कैसे डाऊनलोड करें? तो चलिए दोस्तों इन सारी चीजों के बर्र में पुरी विस्तार से जानते हैं।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना पोर्टल क्या है What Is e-Gram Swaraj Portal

इस योजना को सुचारू रूप से चलाने के लिए सरकार ने एक पोर्टल भी स्टार्ट किया था। इस पोर्टल का नाम 'ई-ग्राम स्वराज पोर्टल(e-Gram Swaraj Portal)' है।

इस पोर्टल के माध्यम से देश के सभी गांवों के जमीन को ऑनलाइन किया जाएगा। इस पोर्टल के माध्यम से ग्राम पंचायतों में कौन- कौन से काम करने हैं और कौन- कौन से काम वर्तमान में चल रहे हैं इन सभी बातों की जानकारी आप जिओ टैगिंग के माध्यम से आप देख सकते हैं।

इस पोर्टल के माध्यम से किस योजना में कितना पैसा आया और कितना खर्च किया गया। इन सारे रिकॉर्ड के बारे में आप इस पोर्टल के माध्यम से जान सकेंगे। आप इस योजना से सम्बंधित अधिकतम जानकारी के लिए e-Gram Swaraj Portal के ऑफिसियल वेबसाइट egramswaraj.gov.in पर भी जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

How to Download e-Gram Swaraj Portal App ई-ग्राम स्वराज पोर्टल ऐप कैसे डाऊनलोड करें

दोस्तों लोगों को अधिक सुविधा के लिए सरकार ने ई-ग्राम स्वराज पोर्टल ऐप को भी शुरू किया है। जिसको आप आसानी से गूगल प्ले स्टोर( Google Play Store) में में जाकर e-Gram Swaraj app सर्च करके भी डाऊनलोड कर सकते हैं।

इस आप को आप ई-ग्राम स्वराज पोर्टल के ऑफिसियल वेबसाइट egramswaraj.gov.in पर जाकर भी डाऊनलोड कर सकते हैं या फिर आप e-Gram Swaraj App पर क्लिक करके भी ई-ग्राम स्वराज को डाऊनलोड कर सकते हैं।

सम्पति कार्ड कैसे बनायें और कैसे डाऊनलोड करें How to Download Property Card

दोस्तों अब आपको बताते हैं कि सम्पति कार्ड कैसे बनायें और इसको बनाया जाता है? तो दोस्तों आपको बता दें कि स्वामित्व कार्ड बनवाने के लिए आपको कहीं पर भी आवेदन करने की जरूरत नहीं है और नहीं कहीं जाने की जरूरत है।

स्वामित्व कार्ड बनवाने के लिए सरकार की तरफ से सभी ग्राम पंचायतों में इसके लिए निःशुल्क सर्वेक्षण का कार्य किया जाएगा। यह कार्य सुचारू रूप से किया जा सके इसके लिए देश भर में इससे सम्बंधित लगभग 300 सहायता केंद्रों की स्थापना किया जाएगा।

जितनी भी जमीन पर घर बना हुआ है उनका भी डेटा तैयार किया जाएगा साथ ही ग्राम पंचायतों में जितने भी सड़क है उन सबका खाका तैयार किया जाएगा।

इसलिए आपको स्वामित्व कार्ड बनाने के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं है। सरकार ने 2024 तक देश के सभी 6 लाख से भी अधिक गांवों में इस योजना को पूरा करने का लक्ष्य रखी है। आप मोबाइल फोन पर SMS से प्राप्त होने वाले लिंक से अपना सम्पति कार्ड डाऊनलोड कर सकेंगे

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2020 का उद्देश्य What Is Purpose Of PM Swamitva Yojana

दोस्तों प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का मुख्य उद्देश्य ये है कि आपने देखा होगा कि काफी पुराने समय से ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को अपने जमीन की कोई प्रूफ नहीं होती थी जिससे कि वो साबित कर सकें कि वो उस जमीन के मालिक है। जिससे उनकी कीमती जमीन की कोई वैल्यू नहीं होती है।

साथ ही इन जमीनों का कोई पक्का प्रूफ नहीं होने से ग्रामीण क्षेत्रों में अक्सर लड़ाई झगड़े होते रहते हैं। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में आपकी जमीन कितनी भी कीमती क्यों न हो बैंक आपको उन जमीन पर कोई लोन नहीं दे सकता है। उसका सबसे बड़ा कारण ये था कि आपके जमीन का कोई पुख्ता सबूत नहीं होता था।

ये भी पढ़ें:- अपना परिवार सुरक्षित देखना चाहते हैं तो जानें Best Term Insurance Plan In India

इन्हीं सब समस्याओं को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने स्वामित्व योजना को शुरू किया है जिसके अंतर्गत देश के सभी 6 लाख से ज्यादा गांवों को उनकी जमीनों का अधिकार दिया जाएगा।

उनको उनके जमीन का पुख्ता सबूत दिए जाएंगे कि वहीं जमीन के मालिक है। इसका सबसे बड़ा फायदा ये होगा कि बैंक आपको उस जमीन पर आसानी से लोन दे सकते हैं।

साथ ही प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के दूसरा सबसे बड़ा लाभ ये है कि आपके जमीनों का कीमत बढ़ जाएगा क्योंकि आपके पास उस जमीन का पक्का सबूत होगा। वहीं इसका एक और लाभ ये भी है कि जो जमीनों पर अवैध कब्जे होते हैं उससे आप बच पाएंगे।

इन सब आंकड़ो को तैयार करने के लिए सरकार ड्रोन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगी जिससे कि आपके जमीन का सटीक जानकारी मिल सके।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत एक कार्ड जारी किया जाएगा जिसको आप डिजिटल तरीकों से भी डाऊनलोड कर सकते हैं। साथ ही आप इस कार्ड को ब्लॉक में सम्पर्क करके ऑफलाइन भी प्राप्त कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के बेस्ट 5 लाभ | Top 5 Benefits Of PM Swamitva Yojana

1. प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के सबसे बड़ा लाभ ये है कि अब लोग अपने ग्रामीण इलाकों के जमीन पर भी बैंक से लोन आसानी से मिल जाएगा। ग्रामीण अपने सम्पति पर लोन लेकर किसी भी तरह की रोजगार या फिर बिज़नेस शुरू कर सकते हैं।
हम सभी लोग जानते हैं कि ग्रामीण इलाकों में जमीन का कोई ओरिजिनल साक्ष्य नहीं होता है। ग्रामीण इलाकों में यदि आपका कोई घर है तो आपके पास कोई भी मालिकाना हक नहीं होता है। जिससे यदि किसान किसी भी प्रकार का लोन अपने जमीन पर लेना चाहता है तो उसको लोन नहीं मिलता है।
2. स्वामित्व योजना से लोगों को उनके जमीन का मालिकाना हक मिल जाएगा। जिसके बाद आपका जमीन सरकार भी नहीं ले सकती।
3. इस योजना के सबसे बड़ा फायदा ये है कि ग्राम पंचायत में कौन सा काम हो चुका है और कौन सा काम अभी वर्तमान में चल रहा है इसकी पुरी जानकारी आसानी से मिल जाएगा।
4. किसान अपनी आवासीय जमीन का पुरा बॉयोडाटा ऑनलाइन देख सकेंगे और ई स्वराज पोर्टल पर लोग ऑनलाइन जमीन का मालिकाना सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकेंगे।
5. इस योजना से सरकार के साथ-साथ लोगों को भी फायदा होगा। इससे सरकार जमीन का टैक्स आसानी से वसूल पाएगी और उन पैसों को गांवों के विकास में लगा पाएगी। पहले किसी भी जमीन का मालिकाना हक नहीं होने से सरकार ऐसा नहीं कर पाती थी।

दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या है और इससे लोगों को क्या लाभ होगा, इसकी पुरी जानकारी आपको मिल गयी होगी। फिर भी अगर आपको सम्पति कार्ड या इससे सम्बंधित और भी जानकारी चाहिए तो आप हमें कंमेंट करके भी पूछ सकते हैं।