Translate

सुरों के बेताज बादशाह सोनू निगम का जीवन परिचय और उनका लाइफस्टाइल

सुरों के बेताज बादशाह सोनू निगम का जीवन परिचय और उनका लाइफस्टाइल

आवाज के जादूगर सोनू निगम की जीवनी | Famous Indian Sangeetkar Sonu Nigam Biography In Hindi

Famous indian musician sonu nigam biography in hindi,success story of sonu nigam in hindi
Sonu Nigam Biography In Hindi


आज हम एक ऐसे Famous Indian Sangeetkar Sonu Nigam Biography In Hindi में एक ऐसे महान गायक के बारे में बात करने जा रहे हैं, जो बॉलीवुड में नेपोटिज्म का शिकार हो चुके हैं।


उस शख्स का आवाज ऐसा कि लाखों लोगों को दीवाना बना दें, तभी तो उनको आवाज का जादूगर कहा जाता है और अपने इसी आवाज के दम पर बॉलीवुड इंडस्ट्री पर वर्षों राज किया। ये खासियत है संगीत के जादूगर सोनू निगम का


जी हाँ आज की इस बेहतरीन पोस्ट में भारत के प्रसिद्ध गायक सोनू निगम की जीवनी के बारे में कुछ अनसुनी बातें करने जा रहे हैं कि आखिर क्यों सोनू निगम पिछले कुछ सालों से ज्यादा गाने नहीं गा रहे थे।


लेकिन जो बात सामने आया है वो हमारे बॉलीवुड के काले सच को दिखाता है। दरअसल बात ये है कि बॉलीवुड माफियाओं ने मिलकर सोनू निगम को फिल्म इंडस्ट्री से हटाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है। 


उनको इस बात की सजा दी जा रही है कि बॉलीवुड के काले सच को बिना डरे सबके सामने लाते हैं, शायद यही बात है कि उनको बॉलीवुड माफिया पसन्द नहीं करते हैं।


तो चलिए इस पोस्ट में भारत के महान संगीतकार सोनू निगम के जीवनी के बारे में बताते हैं कि कैसे सोनू निगम एक छोटे से परिवार से निकलकर जो उपलब्धि हासिल किया वो किसी सपने से कम नहीं लगता है।


सोनू निगम का जन्म और शिक्षा

सोनू निगम का परिवार

सोनू निगम का कैरियर और पहला गाना

सोनू निगम की कुछ अनसुनी कहानियां

सोनू निगम अवार्ड

सोनू निगम से जुड़े विवाद

सोनू निगम का कार कलेक्शन

सोनू निगम की कुल सम्पति


सोनू निगम का जन्म और शिक्षा | Sonu Nigam Success Life Story in Hindi


सोनू निगम का जन्म 30 जुलाई 1973 को हरियाणा के फरीदाबाद शहर में हुआ था। सोनू निगम के पिता का नाम अगम कुमार निगम है, जो पेशे वो भी एक गायक ही थे। सोनू निगम ने अपनी शुरुआती शिक्षा जेडी टेलर स्कूल दिल्ली से की है। उसके बाद उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली से की है।


सोनू निगम का परिवार भारत और पाकिस्तान के बंटवारे के बाद भारत आया था। सोनू निगम को संगीत की शिक्षा उनके माता-पिता से ही मिला था।


ये भी पढ़ें:- न्यूज एंकरिंग के बादशाह अर्णब गोस्वामी की कहानी


सोनू निगम के माता-पिता भी गायक थे और स्टेज पर गाया करते थे और अपने माता-पिता को देखकर सोनू निगम ने भी मात्र चार साल के ही उम्र में स्टेज पर गाना गाना शुरू कर दिया था। लेकिन सोनू निगम के माता-पिता चाहते थे कि उनका बेटा पढ़ लिखकर एक बड़ा आदमी बनें ना कि एक गायक।


परन्तु सोनू निगम के किस्मत में तो कुछ और ही लिखा था। जो शायद उस समय उनके माता-पिता को भी पता नहीं था। लेकिन चौदह साल की उम्र में सोनू निगम ने ये साबित कर दिया था कि वे सिर्फ संगीत के लिए बनें हैं।


जब इन्होंने पहली बार मोहम्मद रफी साहब का गाना 'क्या हुआ तेरा वादा' गाया तो देखने वाले दंग रह गए कि मात्र चौदह साल की में ही ये लड़का मोहम्मद रफी साहब का गाना इतने अच्छे आवाज में कैसे गा सकता है?


सोनू निगम का परिवार Sonu Nigam Family


चलिए आपको सोनू निगम के परिवार से मिलाते हैं।
पिता का नाम- अगम कुमार निगम
माता का नाम- शोभा निगम
पत्नी का नाम- मधुरिका निगम
बहन- मिनल और निकिता
बेटे- नेवान निगम


Sonu Nigam Marriage सोनू निगम की शादी


सोनू निगम की शादी 15 फरवरी 2002 को मधुरिमा से हुई जो बंगाली परिवार से है। सोनू निगम के बेटे का नाम नेवान निगम है।


सोनू निगम का कैरियर और पहला गाना Success Story Of Sonu Nigam In Hindi

Sonu nigam career in hindi,biography of indian sangeetkar sonu nigam in hindi
Sonu Nigam Career

मात्र सत्रह साल की उम्र में वो गायिकी के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाने के लिए सोनू निगम अपने पिता के साथ मुंबई आ गए। उस समय सोनू निगम ने उस्ताद गुलाम मुस्तफा साहब से संगीत के गुर सीखे।


मुंबई जैसे महंगे शहर में दो वक्त के लिए खाने और रहने के लिए सोनू निगम ने स्टेज शोज किया करते थे। सोनू निगम गायिकी के लिए बहुत से रिकॉर्डिंग स्टूडियो में चक्कर लगाया करते थे।


इसके बदले इनको काम का आश्वासन तो मिलता था पर काम नहीं मिलता था और कई बार तो ऐसा होता था कि म्यूजिक डायरेक्टर इनसे गाना तो गवा लेते थे पर उस गाना को रिलीज ही नहीं करते थे।


प्लेबैक सिंगर बनने के वक्त सोनू निगम कैरियर के शुरुआती दिनों में काफी संघर्ष भी किया। लेकिन सोनू निगम के सिंगिंग कैरियर को एक नया मोड़ उस समय मिला जब टी-सीरीज के मालिक गुलशन कुमार ने उन्हें बड़ी ऑडियंस तक पहुँचने का मौका दिया। सोनू निगम की आवाज में 'रफी की यादें' एल्बम रिलीज किया। 


ये एल्बम रिलीज होते ही बहुत सुपरहिट साबित हुआ और साल का सबसे ज्यादा बिकने वाला एल्बम बन गया।


ये भी पढ़ें:- ● बॉलीवुड के सबसे प्रसिद्ध गायक अरिजीत सिंह का जीवन परिचय।

● राजनीति के चाणक्य अमित शाह की कहानी।


प्लेबैक सिंगर के तौर पर सोनू निगम का पहला गाना जानम के लिए थे जो को आधिकारिक तौर पर रिलीज नहीं हुई। जिसके बाद वो रेडियो कमर्शियल भी बनाने लगे और कुछ फिल्मों में एक्टर के रूप में काम भी किया।


1995 में उस समय सबसे पॉपुलर शो में से एक 'सा रे गा मा पा' के होस्ट बनें। जिसके बाद इन्होंने फिल्म बेवफा सनम का गाना 'अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का' गाया,जिसमें उन्होंने एक अलग छाप छोड़ी।


सन 1997 में गोविंदा की आयी फिल्म Hero No.1 में इन्होंने गाने दिए। इस फिल्म के गानों ने सोनू निगम के कैरियर को एक नया मोड़ दिया। 1997 में सोनू निगम का गाना 'यूपी वाला ठुमका लगाऊं कि हीरो जैसे नाच के दिखाऊँ' रिलीज हुआ जो उस साल का सबसे पॉपुलर गाना बना।


इसके बाद 1998 में सोनू निगम का गाना 'लड़की कमाल है कि अँखियों से गोली मारे' रिलीज हुआ जो उस साल सबसे पॉपुलर गाना बना। इसके बाद 2004 में सोनू निगम ने आयी फिल्म 'वीरजरा' में 'दो पल रुका ख्वाबों का कारवां' गाना गाकर लोगों के बीच एक अलग ही पहचान बना ली।


ये गाना उस समय बच्चे, बूढ़े और नौजवान सबके जुबान पर था। यहाँ तक कि ये गाना आज भी लोगों के दिलों पर राज करता हुआ आ रहा है।


लेकिन सोनू निगम के कैरियर का सबसे बड़ा मोड़ उस समय आया जब उन्होंने फिल्म बॉर्डर में अनु मलिक के द्वारा कम्पोज किया गया गाना 'संदेशे आते हैं' गाया। ये गाना उनके करीयर को एक नई ऊंचाई दी और ये गाना काफी सुपरहिट साबित हुआ। इस गाने के बाद पूरे भारत में सोनू निगम के गायिकी का लोग लोहा मानने लगे।


वहीं फिल्म परदेश का गाना 'ये दिल' ने लोगों के दिल को जीत लिया। ये गाना काफी सुपरहिट साबित हुआ। फिर 1999 में सोनू निगम का एल्बम 'दीवाना' रिलीज हुआ। इस एल्बम का संगीत साजिद वाजिद ने दिया था। इस एल्बम का सभी गाने काफी लोकप्रिय हुए।


सोनू निगम ने कई हिंदी फिल्मों की गाने गाए और इसके लिए उन्होंने कई सारे अवार्ड भी जीते। उन्हें फिल्म 'कल हो ना हो' कि टाइटल सॉन्ग और अग्निपथ के गाने 'अभी मुझमें कहीं के लिए' काफी सराहना मिली।


उन्होंने रोमांटिक और देशभक्ति जैसी हर तरह के गाने गाए और उनके गानों को काफी पसंद भी किया गया। सोनू निगम ने सोनू कम्पोजर के तौर पर फिल्म 'सिंह साहब दी ग्रेट' का टाइटल सांग कंपोज किया। इसके अलावा उन्होंने फिल्म 'सुपर से भी ऊपर' और फिल्म 'जल' के भी गाना को कम्पोज किया।


सोनू निगम ने सिंगिंग दुनिया का महत्वपूर्ण शो इंडियन आइडल के जज के रूप में भी अपनी खास पहचान बनायीं। इसके अलावा वो अमूल स्टार्स वॉइस ऑफ इंडिया में सेलिब्रिटी जज के रूप में दिखाई दिए। इसके अलावा सोनू निगम राहत नुसरत फतेह अली खान के साथ छोटे उस्ताद 'दो देशों की एक आवाज में' जज के रूप में नजर आये।


सोनू निगम संजय लीला भंसाली और श्रेया घोषाल के साथ सोनी टीवी पर प्रसारित हुए शो 'X-Factor' के भी जज रहे। सोनू निगम ने गायन के अलावा अभिनय में भी हाथ आजमाया पर इसमें वो ज्यादा सफल नहीं हो सके।


सोनू निगम ने एक बाल कलाकार के रूप में फिल्म बेताब, कामचोर, हमसे है जमाना और तकदीर में भी नजर आए। फिर वो मशहूर फिल्म जानी दुश्मन, काश आप हमारे होते और लव इन नेपाल जैसी फिल्मों में भी दिखे। इन सभी फिल्मों में सोनू निगम ज्यादा पसंद नहीं किये गए।


ये भी पढ़ें:- भारत के चहेते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीवन कहानी।


साल 2013 में सोनू निगम को अमेरिका के बिल बोट अंचार्टेड चार्ट में दो बार नम्बर वन सिंगर का खिताब मिला। इतना ही नहीं इनको हॉलीवुड फिल्म रियो और अलादीन के हिंदी डबिंग में आवाज देते नजर आए थे।


सोनू निगम की कुछ अनसुनी कहानियां Sonu Nigam Interesting facts in Hindi


अब आपको भारत के महान गायक सोनू निगम के बारे में कुछ अनसुनी कहानी बताने जा रहे हैं, जो काफी इंटरेस्टिंग है।


अक्सर आपने सोनू निगम को एक बेहतरीन सिंगर को आपने कभी मिमिकरी करते तो कभी बेहतरीन शो होस्ट करते तो कभी कॉमेडी करते देखा होगा। एक से बढ़कर एक रोमांटिक गानों के लिए जाने जानेवाले सोनू निगम बॉलीवुड इंडस्ट्री की वो आवाज है जिसकी पूरी दुनिया दीवानी है।


सोनू निगम ने हिंदी के अलावा कन्नड़ फिल्मों में भी कई सारे एक से बढ़कर गाने दिए हैं। उन्होंने और भी कई भाषाओं में गाने गाए हैं। जिसमें मणिपुरी, गढ़वाली, उड़िया, तमिल, असमी, पंजाबी, बंगाली, मलयालम, मराठी, तेलुगु और नेपाली आदि शामिल है।


उनके भारतीय पॉप एल्बम भी रिलीज किये और उन्होंने कुछ फिल्मों में एक अभिनेता के रूप में भी काम किया। वो पुरूष गायन में उदित नारायण के बाद ऐसे गायक रहे जिन्होंने लंबे समय तक फिल्म इंडस्ट्री में राज किया।


उनकी आवाज का जादू कुछ इस तरह है कि पूरे देश ने सोनू निगम के गायिकी का लोहा माना और वो हर वर्ग के लोगों का पसन्द बनें।

सोनू निगम कौन सा गाना आपको सबसे ज्यादा पसंद है आप कमेंट करके जरूर बताएं।


सोनू निगम अवार्ड Sonu Nigam Award


प्रसिद्ध भारतीय संगीतकार सोनू निगम को उनके बेहतरीन काम के लिए कई सारे प्रतिष्ठित पुरस्कार से नवाजा जा चुका है।

जैसे- 2004 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, 2013 में आइफा अवार्ड, 2003 में दो बार फिल्मफेयर अवार्ड, 1997 में उनके बेहतरीन गाना संदेशे आते हैं कि लिए जी सिने अवार्ड फॉर बेस्ट प्लेबैक सिंगर जैसे अवार्ड मिल चुका है।


सोनू निगम विवाद  Sonu Nigam Controversy In Hindi


दुनिया भर में भारत के फेमस गायक मशहूर सोनू निगम अपने कुछ बयानों को लेकर काफी विवादों का भी सामना करना पड़ा था। जिसके चलते सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंड भी हुए।


दरअसल विवाद इस बात को लेकर हुआ था कि सोनू निगम ने एक वीडियो के जरिये उन्होंने लोगों को समझदार होने की सलाह दी थी। उन्होंने कहा था कि दूसरों के समय की वैल्यू समझें। अगर कोई व्यस्त है तो उसको परेशान न करें।


2015 में उनका एक और विवाद सामने आया था जब उन्होंने राधे माँ का समर्थन करते हुए काली माँ से कर दी थी। इसके अलावा एक और विवाद का भी सामना करना पड़ा था जब उन्होंने जुहू स्थित Sun-n-Sand Hotel में गाने की रॉयलिटी को लेकर उनकी बाबुल सुप्रियो से तीखी नोक झोंक हुई थी तो वहीं 17 अप्रैल 2017 को उन्होंने अजान की आवाज के बारे में ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्होंने जबर्दस्ती की धार्मिकता कहा।


सोनू निगम को खाने में बटर पनीर, पनीर पोख्ता, मक्खन चिकन, तंदूरी चिकन पसन्द है। वहीं बॉलीवुड में उन्हें शाहरुख खान, आमिर खान और माधुरी दीक्षित पसन्द है।


ये भी पढ़ें:- भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कहानी।


मोहम्मद रफी की तरह उनकी गायन शैली की वजह से उन्हें रफी क्लोन भी कहा जाने लगा। नब्बे के दशक में उनकी अल्बम किस्मत और दीवान सुपरहिट हुए। सोर्स के अनुसार अगर सोनू निगम आज गायक नहीं होते तो एक वैज्ञानिक या फिर अंतरिक्ष यात्री होते।


क्या आप जानते हैं कि सोनू निगम को कॉकरोच से बहुत डर लगता है। उनको गायकों और बॉलीवुड अभिनेताओं की मिमिकरी करने में बहुत मजा आता है। इसलिए वो कई तरह के कार्यक्रमों में मिमिकरी करते हुए देखे जाते हैं।


सोनू निगम का घर और कार कलेक्शन Sonu Nigam Car Collection & Lifestyle In hindi


सोनू निगम के पास दो घर है। जिसमें से एक घर मुंबई के वर्सोवा में हैं जबकि दूसरा घर दुबई में है। दोनों घरों की कीमत लगभग तीस से पचास करोड़ रुपये आंकी गयी है।


सोनू निगम के पास बहुत सारी लग्जरी कारें हैं, जिसमें मर्सिडीज GLS 350D है जिसकी कीमत 90 लाख रुपये है। साथ ही DC अवन्ति भी है जिसकी कीमत लगभग चालीस लाख रुपये है और इनके पास एक रेंज रोवर वोग(Range Rover Vogue) भी है जिसकी कीमत दो करोड़ रुपये है।


सोनू निगम की कुल सम्पति Sonu Nigam Net Worth


क्या आपको पता है कि भारत के महान गायक सोनू निगम को बॉलीवुड का सबसे महंगे गायकों में से एक माने जाते हैं। सोनू निगम एक गाने के लिए तीस लाख रुपये से भी ज्यादा का फीस लेते हैं।


आज सोनू निगम किसी भी पार्टी या लाइव कॉन्सर्ट में गाने के लिए लगभग चालीस लाख रुपये लेते हैं। इसके अलावा सोनू निगम किसी भी शो को होस्ट करने के लिए लगभग पचास लाख रुपये फीस लेते हैं। साथ ही सोनू निगम किसी भी म्यूजिक को डायरेक्ट करने के लिए लगभग पच्चीस लाख रुपये लेते हैं।


सोनू निगम के इतने महंगे फीस जानकर आप इनके सम्पति का अंदाजा लगा सकते हैं। फिर भी आपको बता दें कि सोनू निगम की कुल सम्पति लगभग 400 करोड़ रुपये है।


आपको Famous Indian Sangeetkar Sonu Nigam Biography In Hindi कैसी लगी आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं साथ ही आपको सोनू निगम का कौन सा गाना सबसे ज्यादा पसंद है अपनी राय हमें जरूर दें।

Please do not enter any spam link in comment box