Sarkari Doctor Kaise Bane | डॉक्टर बनने के लिए क्या करें जाने पूरी जानकारी

Sarkari Doctor Kaise Bane | डॉक्टर बनने के लिए क्या करें जाने पूरी जानकारी

AIIMS में सरकारी डॉक्टर कैसे बनें | How To Become Government Doctor In India Hindi

Doctor kaise bane full details in hindi, how to become a doctor after 12 in india in hindi
Doctor Kaise Bane

कहते हैं कि अगर किसी चीज के बारे में पूरी तरह जानकारी हो तो उसको हासिल करना बेहद आसान हो जाता है। हम सभी को अपने जीवन में आगे बढ़ना होता है। इसके लिए हम सभी जमकर के पढ़ाई करते हैं ताकि अपने हर गोल को पा सकें।


सरकारी डॉक्टर बनने के लिए क्या करें?


दोस्तों सबके जीवन में कोई न कोई लक्ष्य जरूर रहता है। किसी को इंजीनियर बनना है तो किसी को जियोलॉजिस्ट बनना है तो किसी को डॉक्टर बनना है। बढ़ते उम्र के साथ-साथ हमारे अभिभावकों को भी ये चिंता सताने लगती है कि हमारे बच्चे आगे चलकर क्या बनेंगे?


लेकिन अगर आपका सपना डॉक्टर बनने का है तो आप बिल्कुल सही जगह पर है क्योंकि आज हम आपको बताने वाले हैं कि आप एक अच्छा डॉक्टर कैसे बनें और डॉक्टर बनने के लिए क्या करना चाहिए? साथ ही हम आपको पूरी जानकारी देंगे कि-


● डॉक्टर बनने के लिए क्या करना पड़ेगा,
● डॉक्टर बनने के लिए क्या पढ़े,
● सबसे बढ़िया कॉलेज कौन सा है,
● डॉक्टर बनने के लिए कौन-कौन से एग्जाम देने पड़ते हैं,
● एग्जाम की तैयारी कैसे करें,


तो अगर आपको भी इन सारे सवालों का जवाब चाहिए तो इस article को पूरा जरूर पढ़ियेगा। चलिए बिना किसी देरी जानते हैं कि डॉक्टर कैसे बनें?


    सरकारी डॉक्टर कैसे बनें?


    दोस्तों डॉक्टर बनने के लिए आपको बचपन से ही लक्ष्य बनाना होगा और उसके ओर निरंतर अपने कदम बढ़ाते रहें। खास कर के आपको डॉक्टर की पढ़ाई के लिए दसवीं से ही निर्णय लेना होगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि दसवीं के बाद ग्यारहवीं से ही आपको बायोलॉजी की पढ़ाई करनी होगी।


    मेडिकल की पढ़ाई के लिए आपको बायोलॉजी के साथ-साथ फिजिक्स और केमिस्ट्री विषय के बारे में भी अच्छी जानकारी रखनी होगी। इसके साथ ही आपको बारहवीं में कम से कम 50% अंक के साथ पास करना होगा। जिसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय जरूर शामिल होना चाहिए।


    बारहवीं का एग्जाम पास करने के बाद अब आपको मेडिकल की पढ़ाई के लिए प्रवेश परीक्षा में भाग लेना होगा। इसके लिए आपको NEET के एग्जाम में शामिल होना पड़ेगा।


    दोस्तों डॉक्टर बनने से पहले आपको NEET की परीक्षा पास करना बेहद जरूरी होता है। एक बार NEET पास करने के बाद आगे का डॉक्टर बनने का सपना बिल्कुल आसान हो जाता है। अभी आप सोच रहे होंगे कि NEET परीक्षा क्या है और इसे कैसे पास करें, NEET की परीक्षा कैसे आपके डॉक्टर बनने का सपना पूरा कर सकता है, आइये इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।


    NEET एग्जाम क्या होता है? NEET Exam Full Details In Hindi


    NEET का Full Form (National Eligibility Cum Entrance Test) होता है। ये परीक्षा भारत में MBBS और BDS में एडमिशन लेने के लिए ली जाती है। इस परीक्षा को पास करने वाले अभ्यर्थियों को डॉक्टर के आगे का पढ़ाई करने का दर्जा मिल जाता है।


    आपको जानकारी के लिए बता दें कि National Testing Agency (NTA) इस एग्जाम को संचालित करती है। NEET का एग्जाम दो स्तर पर लिया जाता है- UG और PG.


    NEET की परीक्षा UG स्तर पर MBBS और BDS में एडमिशन लेने के लिए होता है, जबकि PG स्तर पर MS और MD जैसे कोर्सेस को पूरा करने के लिए प्रवेश परीक्षा होता है।


    ये परीक्षा NTA द्वारा हर साल पूरे देश में लगभग 479 मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए आयोजित की जाती है। अभी आपको ये जान लेना बेहद जरूरी है कि आखिर NEET परीक्षा की जरूरत देश में क्यों पड़ी?


    आपको बता दें कि इससे पहले भी देश मे मेडिकल कोर्सेस को करने के लिए प्रवेश परीक्षायें आयोजित की जाती थीं लेकिन इसके लिए अलग-अलग लगभग 90 परीक्षा होता था। इनमें से CBSE द्वारा आयोजित AIPMT मुख्य परीक्षा होती थी। इसके अलावा अलग-अलग राज्यों के द्वारा मेडिकल की प्रवेश परीक्षा लेता था।


    ऐसी स्थिति में हर स्टूडेंट्स को लगभग 7 से 8 प्रवेश परीक्षा देना पड़ता था। जिससे उनको न केवल मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता था, बल्कि अनेकों परीक्षाओं में शामिल होने के लिए स्टूडेंट्स को काफी पैसे खर्च करने पड़ जाते हैं। सरकार के द्वारा स्टूडेंट्स के समस्याओं को देखते हुए इन सारी परीक्षाओं को समाप्त कर NEET को लाया गया।


    ये भी पढ़ें:-● जियोलॉजिस्ट कैसे बनें पूरी जानकारी।

    महान बास्केटबॉल खिलाड़ी कैसे बनें?


    आज मेडिकल कॉलेज में दाखिला लेने के लिए सिर्फ NEET एग्जाम को पास करना होता है जबकि पहले ऐसा नहीं होता था। NEET के आने के बाद से स्टूडेंट्स के डॉक्टर बनने के सपने को और आसान कर दिया है।


    NEET एग्जाम के आ जाने के बाद से AIPMT और राज्य स्तर के अनेकों परीक्षाओं को खत्म कर दिया है। जिससे स्टूडेंट्स को काफी हद तक अनेकों एग्जाम के तनाव से मुक्ति मिल गयी है।


    NEET एग्जाम के बारे में और जानकारी के लिए बता दें कि ये एक सिंगल स्टेज का एग्जाम होता है और इसका एग्जाम ऑफलाइन लिया जाता है। लेकिन आने वाले समय में ये एग्जाम ऑनलाइन होगा या ऑफलाइन ये अभी नहीं कहा जा सकता है।


    ऐसे में ये भी संभावना जताई जा रही है कि NEET का एग्जाम साल में एक बार होने के बजाय दो बार भी आयोजित किया जा सकता है। आपके जानकारी के लिए बता दें कि NEET एग्जाम का समय अवधि तीन घंटे का होता है। इस परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप के सवाल पूछे जाते हैं। 


    लेकिन परीक्षा देते समय इस बात का भी ध्यान जरूर रखें कि इसमें नेगेटिव मार्किंग किया जाता है। इसलिए जो सवाल का उत्तर मालूम न हो उनको बिना वजह गलत उत्तर देने से बचें।


    इस परीक्षा में भाग लेने के लिए आपको बारहवीं क्लास में बायोलॉजी विषय से पास करना जरूरी होगा तभी आप इन मेडिकल परीक्षाओं में भाग ले पाएंगे। जो स्टूडेंट्स अभी बारहवीं की पढ़ाई कर रहे हैं वैसे स्टूडेंट्स भी इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।


    लेकिन आपको मेडिकल कॉलेज में दाखिला तभी दिया जाएगा जब आप बारहवीं की परीक्षा पास कर लेंगे। इसके पहले भले ही आप मेडिकल एग्जाम का टेस्ट पास कर लें और बारहवीं का एग्जाम पास नहीं कर पाए तो आपको मेडिकल कॉलेज में दाखिला नहीं दिया जाएगा।


    NEET एग्जाम देने की योग्यता | Eligibility For NEET Exam In Hindi


    NEET के एग्जाम में बैठने के लिए आपको बारहवीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी पढ़ा होना बहुत जरूरी है, तभी आप इस परीक्षा में बैठ सकते हैं। इस एग्जाम में मुख्यतः फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय से सवाल पूछे जाते हैं।


    इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र कम से कम 17 वर्ष होना अनिवार्य है। इस एग्जाम के लिए अधिकतम उम्र सीमा तय नहीं की गई है। NEET की परीक्षा के लिए जनरल कैटेगरी के छात्रों को बारहवीं की परीक्षा में न्यूनतम 50% अंक प्राप्त करना जरूरी होता है, जबकि SC, ST और OBC कैंडिडेट के लिए न्यूनतम 40% अंक हासिल करना अनिवार्य होता है।


    इस एग्जाम को पास करने के लिए स्टूडेंट्स कितना भी बार प्रयास कर सकता है। NEET एग्जाम में उन्हीं छात्रों को बैठने का मौका मिलता है जो भारतीय नागरिक हो। अन्य देश के छात्रों को इस परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं होती है।


    How To Qualify NEET Exam In First Attempt In Hindi | NEET का एग्जाम कैसे पास करें


    आइये दोस्तों अब जानते हैं पहले प्रयास में NEET का एग्जाम कैसे पास करें, इसके लिए तैयारी कैसे करें?


    NEET एग्जाम में शामिल होने से पहले अभ्यर्थियों को मानसिक रूप से खुद को तैयार रखना बेहद जरूरी होता है क्योंकि इस दुनिया में केवल आप ही है जो अपने सपने को पूरा कर सकते हैं। इसलिए किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए अपना पूरा फोकस उस एग्जाम पर लगा दीजिये।


    इस एग्जाम में शामिल होने से पहले आपको बारहवीं कक्षा की पढ़ाई अच्छे ढंग करना बेहद जरूरी होता है क्योंकि आपकी नीव जितनी मजबूत होगी आपके लिए इस एग्जाम को पास करना उतना ही आसान होगा।


    वैसे स्टूडेंट्स जो बारहवीं कक्षा में अच्छे से पढ़ाई करते हैं उनके लिए इन प्रतिगोगी परीक्षाओं को पास करना कोई खास मुश्किल नहीं होता है। इस परीक्षा में बेहतर परिणाम के लिए बारहवीं कक्षा में फिजिक्स,केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय अपने आधार को मजबूत करें और उनको ध्यान लगाकर पढ़ें।


    बारहवीं की परीक्षा समाप्त होने के बाद आपको बीते वर्षों के प्रश्न पत्रों को जरूर हल करना चाहिए। ऐसा करने से आपको परीक्षा के प्रारूप के बारे में पता चलेगा और किस तरह के सवाल पूछे जाते हैं, इस बात का भी अंदाजा लगेगा।


    ये भी पढ़ें:- लाखों स्टूडेंट्स का सपना MIT में एडमिशन कैसे लें?


    इसके अलावा जितना हो सकें सैंपल पेपर को निर्धारित समय में हल करने का प्रयास करें। ऐसा इसलिए जरूरी है क्योंकि इससे आप अपने को मूल्यांकन कर पाएंगे और जान पाएंगे कि आपको कहाँ पर अधिक मेहनत करने की जरूरत है।


    किसी भी एग्जाम को क्रैक करने के लिए टाइम मैनेजमेंट का होना बेहद जरूरी होता है। इसलिए टाइम मैनेजमेंट कैसे करें इसकी पूरी जानकारी के लिए ये पोस्ट जरूर पढ़ें।


    अगर आप पहली बार में NEET का एग्जाम पास नहीं कर पाएं तो निराश होने के बजाय अपने अंदर के कमियों को दूर करने का प्रयास करें। इसलिए पिछले एग्जाम में दुहरायी गयी गलतियों को दूर करें, ताकि अगली बार जब आप एग्जाम देने जाएं तो फिर से वहीं गलती न कर बैठे।


    NEET एग्जाम को क्लियर करने के लिए अच्छे बुक्स को पढ़ें और जरूरत पड़ने पर आप किसी अच्छे कोचिंग संस्थान की भी सहायता जरूर ले सकते हैं। इससे आपको जहाँ भी दिक्कत होगी आप अपने टीचर से सहायता ले सकते हैं। साथ ही टीचर आपको सही दिशा में तैयारी करने में सहायता प्रदान करते हैं।


    परीक्षा को लेकर ज्यादा तनाव लेने के बजाय अपने हेल्थ पर खासकर के ध्यान रखें, क्योंकि कोई भी काम आप शरीर को बीमार रख के नहीं कर सकते हैं।


    इसलिए दिन रात जगकर पढ़ने के बजाय पढ़ने का सही टाइम टेबल बनाएं क्योंकि बिना अच्छी नींद के आपको पढ़ने में मन नहीं लगेगा और आपको काफी चिड़चिड़ा महसूस होगा। पढ़ाई करने के लिए सही रूटीन बनाये और उसको फॉलो करें। तो इन सब बातों का ध्यान रखेंगे तो आपके NEET क्वालीफाई करने का सपना बहुत जल्द पूरा हो जाएगा।


    Doctor बनने के लिए योग्यता | Eligibility For Doctor In Hindi


    एक बार NEET क्वालीफाई करने के बाद आप डॉक्टर बनने का सबसे बड़ी बाधा पार कर चुके होते हैं।लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप डॉक्टर बन चुके हैं।
    तो आइए जानते हैं कि एक अच्छा डॉक्टर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता कितनी होनी चाहिए इसकी जानकारी के बारे में विस्तार से जानते हैं।


    डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले बारहवीं कक्षा में बायोलॉजी विषय के साथ उतीर्ण होना बहुत जरूरी है। इसके बाद आपको Bachelor Of Medicine And Bachelor Of Surgery (MBBS) की पढ़ाई करना अनिवार्य होता है।


    MBBS की डिग्री हासिल करने के लिए आपको लगभग साढ़े चार वर्षों के कोर्स को पूरा करना जरूरी होता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद अभ्यर्थियों को किसी भी मेडिकल कॉलेज में कम से कम एक साल का इंटर्नशिप करना होता है।


    इस तरह आपके MBBS का कोर्स लगभग साढ़े पांच साल में पूरा हो जाएगा। यदि आप एक MBBS का कोर्स पूरा के लेते हैं तो Medical Council Of India (MCI) के द्वारा आपको एक योग्य डॉक्टर के रूप में MBBS की डिग्री प्रदान कर दी जाती है। इसके बाद आप अपने अनुसार पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स जैसे- MD, MS की पढ़ाई कर सकते हैं या फिर रिसर्च कर सकते हैं।


    रिसर्च करने के बाद आप किसी मेडिकल कॉलेज या किसी रिसर्च सेंटर में teaching का काम शुरू के सकते हैं।


    Top 14 Medical Courses In India


    आइये अब भारत के टॉप मेडिकल कोर्सेस के बारे में जान लेते हैं।


    ● Bachelor Of Medicine And Bachelor Of Surgery (MBBS)

    ● Bachelor Of Dental Surgery (BDS)

    ● Bachelor Of Homiyopaithi Medicine And Surgery (BHMS)

    ● Bachelor Of Aayurvedic Medicine And Surgery (BAMS)

    ● Doctor Of Medicine (MD)

    ● Master Of Surgery (MS)

    ● Doctorate In Medicine (DM)

    ● Bachelor Of Pharmacy (B.Pharm)

    ● BSc. Nursing

    ● Physiotherapy (B.P.T.)

    ● Occupational therapy (B.O.T.)

    ● Unani Medicine (B.U.M.S.)

    ● D. Pharm

    ● Bachelor Of Medical Lab Technician


    Top 10 Medical Institute In India


    आइये दोस्तों अब भारत के टॉप 10 मेडिकल इंस्टिट्यूट के बारे में जान लेते हैं।


    ● All India Institute Of Medical Sciences Delhi

    ● Grant Medical College Mumbai

    ● Madras Medical College Chennai

    ● JIPMER Puducheri

    ● Banaras Hindu University (BHU)

    ● Maulana Azad Medical College Delhi

    ● Armed Forces Medical College (AFMC) Pune

    ● Christian Medical College (CMC) Vellore

    ● Kasturba Medical College Manipal

    ● Shriram Chandra Medical College And Research Institute Chennai


    Best Jobs For Doctor In India


    आइये अब जानते हैं कि डॉक्टर बनने के बाद किस क्षेत्र में आपकी जॉब लग सकती है।


    ● Bio Medical Companies

    ● Hospitals

    ● Laboratory

    ● Research Institute

    ● Medical Colleges


    तो दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि आपको डॉक्टर कैसे बनें से सम्बंधित हर जानकारी प्राप्त हो चुकी है। फिर भी इससे सम्बन्धित कोई और भी सवाल है तो कमेंट करके जरूर पूछ सकते हैं। साथ ही अगर आपको हमारा ये जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें।


    जीवन में सही करियर का चुनाव कैसे करें?

    भारत में सबसे ज्यादा सैलरी देने वाले 5 जॉब्स।

    घर बैठे SEO Expert कैसे बनें?


    Please do not enter any spam link in comment box