Ankita Jain UPSC Biography | अंकिता जैन की सक्सेस स्टोरी

Ankita Jain UPSC Biography | अंकिता जैन की सक्सेस स्टोरी

आगरा की बहू अंकिता जैन की जीवनी | Ankita Jain UPSC Biography, Wikipedia, Success Story In Hindi


दोस्तों, आप जानते ही होंगे कि संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सर्विस का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। देश भर से लाखों अभ्यर्थियों ने इस प्रतिष्ठित परीक्षा में भाग लिए थे।


लेकिन इन लाखों युवाओं में केवल 761 अभ्यर्थियों का चयन हुआ। इनमें से भी आगरा की बहु अंकिता जैन ने पूरे देश में AIR-3 हासिल कर न सिर्फ अपना बल्कि पुरे प्रदेश का नाम रोशन किया है।


इनके इस सफलता ने पूरे देश के युवाओं सहित लड़कियों का भी हौसला बढ़ाया है। कैसे इन्होंने शादी हो जाने के बाद भी न सिर्फ UPSC कैसे कठिन परीक्षा की लगातार तैयारी रही बल्कि पूरे देश में सिविल सर्विस परीक्षा में AIR-3 लाकर लाखों युवाओं की प्रेरणास्रोत बन गयी?


आइये जानते हैं कि पूरे देश में यूपी प्रदेश का नाम रोशन वाली UPSC AIR-3 अंकिता जैन कौन है? इनके पढ़ाई करने के क्या तरीके रहे होंगे जिन्होंने परिवार का बोझ संभालते हुए इतनी बड़ी मुकाम हासिल किया है?


    अंकिता जैन (UPSC AIR-3) कौन है | Who Is Ankita Jain UPSC in Hindi


    अंकिता जैन आगरा की बहू के नाम से मशहूर है, जिन्होंने यूपीएससी में पूरे देश में तीसरा स्थान हासिल किया है। वर्तमान में ये ऑडिट एंड अकाउंट सर्विसेज (अलायड आईएएस) में मुंबई में कार्यरत है।


    ये महाराष्ट्र कैडर के आईपीएस अधिकारी अभिनव त्यागी की पत्नी है, जो कि गोंदिया जिले में एएसपी के पद पर कार्यरत है। इसके अलावा अंकिता डिफेंस एस्टेट निवासी डॉ. राकेश त्यागी और डॉ. सविता त्यागी की पुत्रवधू हैं।


    पूरे प्रदेश के लोग इनके इस सफलता पर बहुत खुश है। इनका कहना है कि जॉब के साथ-साथ परीक्षा की तैयारी करना बहुत मुश्किल था लेकिन बेहतर टाइम मैनेजमेंट के बदौलत मैं ये सब कर पाई।


    इनके इस सफलता से परिवार में खुशी का माहौल है। जैसे ही अंकिता के रिजल्ट के बारे में परिवार को पता चला सभी के खुशियों का ठिकाना नहीं रहा। सब लोग एक दूसरे को मिठाई खिलाकर अपनी खुशी का इजहार कर रहे हैं।


    Ankita Jain UPSC Educational Qualification | अंकिता जैन की शिक्षा


    दिल्ली के शास्त्री नगर की रहने वाली अंकिता ने अपने स्कूल की शिक्षा प्राप्त करने के बाद दिल्ली टेक्नोलॉजिकल इंस्टीट्यूट से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है। इसके बाद ये सिविल सर्विसेज की तैयारी करने लगी। इसी बीच 2019 में इनका चयन अलाइड आईएएस के लिए हो गया।


    जिसके बाद अंकिता डिप्टी अकाउंटेंट जनरल के पद पर मुंबई में काम करने लगी। लेकिन ये अपने काम से संतुष्ट नहीं थी और यहाँ भी पढ़ाई करना नहीं छोड़ा। लेकिन जॉब के दौरान पढ़ाई करने और नोट्स बनाने को लेकर काफी दिक्कत होती थी।


    ऐसे में इन्होंने छोटी बहन वैशाली जैन के द्वारा बनाये गए नोट्स से पढ़ाई करने लगी। आपको बता दें कि इनकी छोटी बहन वैशाली ने 21वीं रैंक से UPSC की परीक्षा को पास किया है। दोनों बहनों ने यूपीएससी की परीक्षा में ऊंची रैंकिंग हासिल कर परिवार का मान बढ़ाया है।


    आपको बता दें कि यूपीएससी 2020 की परीक्षा में बिहार के शुभम कुमार पूरे देश में टॉपर रहे हैं तो वहीं मध्यप्रदेश की जागृति अवस्थी ने दूसरे नम्बर पर रही है।


    ये भी पढ़ें:-● UPSC टॉपर शुभम कुमार का जीवन परिचय।

    UPSC 2nd रैंक जागृति अवस्थी का जीवन परिचय।


    अंकिता जैन का परिवार


    पिता का नाम: N/A
    माता का नाम: N/A
    ससुर (Father-in-law): डॉ राकेश त्यागी
    सास (Mother-in-law): डॉ सविता त्यागी
    बहन का नाम: वैशाली त्यागी (AIR-3)
    हस्बैंड नाम: अभिनव त्यागी (आईपीएस)
    बच्चे: N/A


    Ankita Jain UPSC Biography, Wiki, Age, Rank, Date Of Birth, Net Worth | अंकिता जैन का जीवन परिचय


    पूरा नाम: अंकिता जैन
    निकनेम: अंकिता
    जन्म/ Date Of Birth: 1993
    जन्मस्थान/ Birthplace: आगरा
    वर्तमान पता: शास्त्री नगर, नई दिल्ली
    ससुराल: डिफेंस एस्टेट कॉलोनी, ग्वालियर रोड, आगरा
    उम्र/ Age: 28 वर्ष
    हाइट/ Height: 155 सेमी.
    वजन/ Weight: 60 किलोग्राम
    स्कूल: N/A
    कॉलेज: दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी
    प्रोफेशन: आईएएस अधिकारी
    UPSC रैंक: AIR-3
    रोल नम्बर: 0813490
    सैलरी: N/A
    नेट वर्थ: N/A
    एजुकेशन: ग्रेजुएट
    जाति/ Caste: ब्राह्मण
    धर्म/ Religion: हिन्दू
    राष्ट्रियता: भारतीय


    Ankita Jain UPSC Success Story In Hindi | अंकिता जैन का करियर

    Ankita jain upsc biography in hindi, ankita jain success story
    Ankita Jain UPSC Biography

    छोटी उम्र में जब अंकिता ने घर के खिड़की से बाहर झुग्गी-झोपड़ी के बच्चों को इधर-उधर घूमते देख इनको काफी आश्चर्य हुआ। इन्होंने सोचा कि आखिर ये पूरे दिन करते क्या होंगे? अपनी इस प्रश्न का उत्तर जानने के लिए उसने अपने पिता से पूछा कि ये बच्चे स्कूल क्यों नहीं जाते हैं?


    उस समय उनके पिता ने अगर तुम बड़ा बनकर आईएएस अधिकारी बन गयी तो समाज में इस तरह के समाज में बदलाव ला सकती हो और इन बच्चों को ऐसा करने से रोककर पढ़ने के लिए भेज सकती हो।


    फिर क्या था यहीं बात अंकिता के दिल में चुभ गयी। उसी समय इन्होंने आईएएस अधिकारी बनने का ठान लिया। लेकिन इस यात्रा में काफी कठिनाइयों का सामना भी करना पड़ा। लेकिन हार न मानने की ऐसी जिद थी कि रास्ता रोकने की हर कठिनाई कम पड़ जाती थी।


    इनका कहना है कि इस कठिन समय में इनके माता-पिता ने काफी सहयोग किया। इस यात्रा में इनकी छोटी बहन वैशाली भी शामिल हो गयी। दोनों बहनों ने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी।


    अंकिता ने UPSC की परीक्षा देने से पहले 2016 में गेट की परीक्षा दी, जिसमें पहली रैंक हासिल की। जिसके बाद 2017 में पहली बार UPSC की परीक्षा में शामिल हुई,  लेकिन इन्होंने प्रीलिम्स भी पास नहीं की। बिना हौसला खोए अंकिता ने 2018 की परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी।


    जिसमें इन्होंने 270 रैंक हासिल करने के बाद मुंबई में डिप्टी अकाउंटेंट जनरल के पद पर तैनात हो गयी। लेकिन वो इस काम से खुश नहीं थी। इनका सपना तो समाज के बीच रहकर उनकी समस्याओं को दूर करने का था।


    जिसके बाद वो जॉब के साथ-साथ और कड़ी मेहनत करके परीक्षा की तैयारी करने लगी। लेकिन काम का बोझ अधिक हो जाने और समय कम रहने के कारण अगली परीक्षा में सफल नहीं हो पाई। फिर समय आया 2020 का, जब अंकिता कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती थी। इस बार वो पूरी तरह तैयार थी।


    इस बार न सिर्फ वो सिविल सर्विस की परीक्षा पास की बल्कि AIR-3 लाकर पूरे देश में अपना नाम रोशन कर दिया। हमें गर्व है भारत के इस बहादुर बेटी पर।


    ये भी पढ़ें:-● पहले ही प्रयास में 10वीं रैंक लाने वाले सत्यम गांधी का जीवन परिचय।

    धाकड़ महिला आईएएस अधिकारी रोहिणी सिंधुरी का जीवन परिचय।


    Ankita Jain UPSC Strategy In Hindi


    सिविल सर्विसेज (आईएएस) परीक्षा में पूरे देश में तीसरी रैंक हासिल करने वाली आगरा की अंकिता जैन की मोटिवेशनल कहानी लाखों युवाओं को प्रेरित करने वाली है। इनका कहना है कि कोई भी पेशा छोटा या बड़ा नहीं होता। बस उसे हासिल करने के लिए लक्ष्य पर फोकस रखना जरूरी होता है।


    24 सितंबर को जैसे ही यूपीएससी का रिजल्ट जारी हुआ अंकिता के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इन्होंने इंटरव्यू में बताया कि "रणनीति के साथ 6 घंटे की पढ़ाई किया जाए तो यूपीएससी की तैयारी में काफी मदद मिलता है। लेकिन जितना भी देर पढ़ें मन लगाकर पढ़े। अगर हर रोज लक्ष्य बनाकर पढ़ाई किया जाए तो हर चीजें काफी आसान हो जाती है।"


    इनका कहना है कि अगर आप नौकरी भी करते हैं तब भी तैयारी किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए सही टाइम मैनेजमेंट की जरूरत होगी। उन्होंने ये भी कहा कि युवाओं को इधर-उधर भटकने के बजाय जिस क्षेत्र में जाना है उस पूरी फोकस रखते हुए तैयारी करेंगे तो सफलता जरूर मिलेगी।


    अंकिता जैन का यूपीएससी सक्सेस मंत्र


    1. ज्यादा देर तक पढ़ने के बजाय यूपीएससी की तैयारी के लिए स्टूडेंट्स को स्मार्ट तरीके से पढ़ाई करने पर फोकस करना चाहिए।
    2. 12वीं तक एनसीईआरटी की किताबों से पढ़ाई कर अपनी बेस को मजबूत करें।
    3. यूपीएससी की तैयारी करते समय छोटे-छोटे नोट्स बनाकर पढ़ाई करें इससे आपका काम काफी हद तक आसान हो जाएगा।
    4. पूरी सिलेबस एक बार में पढ़ने के बजाय सब्जेक्ट के बेसिक्स को पहले क्लियर करें, इसके बाद बाद में सिलेबस के अनुसार पढ़ाई करें। 
    5. जितना हो सके ज्यादा-से-ज्यादा रिविज़न पर ध्यान दें और सही रणनीति बनाकर कड़ी मेहनत करें।


    दोस्तों, ये थी यूपीएससी में तीसरा स्थान हासिल करने वाली अंकिता जैन की जीवनी। अगर आपको Ankita Jain UPSC Biography In Hindi पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें धन्यवाद।।

    ये भी पढ़ें:-

    Please do not enter any spam link in comment box