Translate

Biography लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Biography लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Indian Idol के चहेते सिंगर मोहम्मद दानिश का जीवन परिचय

Indian Idol के चहेते सिंगर मोहम्मद दानिश का जीवन परिचय

Indian Idol Singer Mohammad Danish Biography In Hindi | मोहम्मद दानिश इंडियन आइडल की जीवनी

Indian idol singer mohammad danish biography in hindi, mohammad danish best performance
Mohammad Danish Biography In Hindi

आज पूरे भारत में indian idol 2021 के मंच से एक शख्स का नाम इस तरह लोगों के जुबान पर छाया हुआ है जैसे मानों उसके आगे सारे सितारे फीके पड़ गए हैं। जिनके गानों को बड़े-बड़े हस्तियों ने दिल खोलकर सराहते हैं। जिसने इंडियन आइडल के स्टेज पर एक से बढ़कर एक परफॉर्मेंस देकर सबको चकित कर दिया।


आप सोच रहे होंगे ऐसा करने वाला कौन है तो आपको बता दें कि हम बात कर रहे हैं उत्तर प्रदेश के मुज्जफरनगर जिले के रहने वाले और सबके चहेते सिंगर मोहम्मद दानिश के बारे में। आज हर जगह पर जहाँ भी नए संगीत सितारों की बात होती है वहाँ दानिश का नाम न आये ऐसा हो नहीं सकता।


आज हम आपको मोहम्मद दानिश के जीवनी के बारे में ऐसे-ऐसे कुछ रहस्य बताने वाले हैं जिसे शायद आप नहीं जानते होंगे। तो चलिए आज हम आपको पूरी विस्तार से Imdian Idol Singer Mohammad Danish Biography In Hindi के बारे में बताते हैं।


मोहम्मद दानिश सिंगर का जीवन परिचय(Biography)


मोहम्मद दानिश का जन्म 15 अक्टूबर 1996 को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में एक मुस्लिम परिवार में हुआ था। मोहम्मद दानिश के पिता का नाम डॉ शाहनवाज अली और माता का नाम मुशरत जहां है।


पूरा नाम- मोहम्मद दानिश
निकनेम- दानिश
बर्थडे- 15 अक्टूबर
प्रोफेशन- गायक
उम्र- 24 वर्ष(2020 के अनुसार)
हाइट- 5 फीट 8 इंच
वजन- 75 kg
शौक- सिंगिंग और डांसिंग
धर्म- मुस्लिम
वैवाहिक जीवन- अविवाहित
राष्ट्रीयता- भारतीय


मोहम्मद दानिश की शिक्षा


आइये दोस्तों अब मोहम्मद दानिश के शिक्षा के बारे में बात करते हैं। अपनी शुरुआती पढ़ाई मुजफ्फरनगर के ही डी.ए.वी. स्कूल से पूरी की है और इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ से स्नातक की पढ़ाई पूरी की है।


मोहम्मद दानिश Early Life Story In Hindi


मोहम्मद दानिश बहुत ही प्रतिभावान गायक है पर क्या आप जानते हैं ऐसी प्रतिभा इतनी आसानी से नहीं मिलती है बल्कि बचपन से ही दिल लगाकर दिन रात मेहनत करनी पड़ती है तभी इतनी शोहरत हासिल हो पाती है।


मोहम्मद दानिश के साथ भी ठीक ऐसा ही हुआ है। मात्र चार साल की उम्र से ही दादाजी उस्ताद अब्दुल करीम खान के साथ संगीत की बारीकियां सीखने में लग गए और एक अच्छा सिंगर बनने का सपना देखने लगे।


ये भी पढ़ें:- सिंगिंग के बादशाह अरिजीत सिंह की जीवनी।


जैसा कि आपको बता दें कि मोहम्मद दानिश का फैमिली बैकग्राउंड पहले से ही संगीत की दुनिया से जुड़ा हुआ है। इसलिए इनको बहुत ही कम समय में संगीत सीखने का जोश जाग उठा। और पिछले 10 सालों से लगातार अपने संगीत को और भी बेहतर बनाने की कोशिश करते रहे हैं और कई सारे रियलिटी शो में हिस्सा ले चुके हैं।


बहुत ही कम समय में उन्होंने अपने सुरीली आवाज से सबको प्रभावित कर दिया और इसका फल उनको आज पूरे देश का प्यार के रूप में मिल रहा है। इतने कम समय में ही उनके लाखों लोग दीवाने बन चुके हैं। नेहा कक्कड़, हिमेश रेशमिया सहित सभी जज उनके गानों का लोहा मान चुके हैं।


मोहम्मद दानिश का सिंगिंग करियर | Mohammad Danish Success Story In Hindi


मोहम्मद दानिश ने अपने करियर की शुरुआत 2015 में 'द वॉइस ऑफ पंजाब' से किया था और अपने जबरदस्त गायिकी के दम पर इस शो के फाइनल तक भी पहुँचे थे।


मोहम्मद दानिश indian idol में हिस्सा लेने से पहले 2017 में ही इंडियन रियलिटी शो 'द वॉइस इंडिया सीजन 2' में भाग ले चुके हैं। इस शो में अपने दमदार प्रदर्शन से सबके चहेते सिंगर बन गए थे और इस सीजन के Yamaha Most Stylish Singer का अवार्ड भी जीत चुके हैं।


अपने स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद उस्ताद इरशाद के देख रेख में मोहम्मद दानिश का पहला गाना 'We Indians' टी सीरीज पर रिलीज हुआ था। आपको बता दें कि ये गाना देशभक्ति धुन पर गाया हुआ गाना था।


मोहम्मद दानिश खुद का एक म्यूजिकल एल्बम बना चुके हैं जिसका नाम 'मेरी जान' है। उनके इस एल्बम को पवन चावला और मीका सिंह जैसे दिग्गज ने प्रोड्यूस किया था।


लेकिन मोहम्मद दानिश के सिंगिंग करियर में असली उछाल तब आया जब उनका सेलेक्शन indian idol के 12वें सीजन में हो गया। इसके बाद तो इन्होंने अपने सुरीली आवाज और शानदार परफॉर्मेंस से लोगों को इस कदर लुभाया कि सब इनके दीवाने हो गए।


आज दानिश indian idol के टॉप कंटेस्टेंट में अपनी जगह बना चुके हैं और एक से बढ़कर परफॉर्मेंस देकर इस शो के विजेता की दावेदारी बहुत ही मजबूती से पेश किया है।


अभी हाल ही रामनवमी के शुभ अवसर पर तो उनके गानों ने लोगों के दिलों पर इस कदर छाया हुआ है कि इनके आगे और सारे कंटेस्टेंट फिंके पड़ते नजर आ रहे हैं। आप उनका ये परफॉर्मेंस क्लिक करके देख सकते हैं।


1. Mohammad Danish Best Performance

2. Mohammad Danish Best Performance In Indian Idol


Mohammad Danish Salary & Net Worth


आइये दोस्तों अब indian idol सिंगर मोहम्मद दानिश की सैलरी के बारे में जानते हैं। दानिश के शो करने के लिए लगभग चार से पांच लाख रुपये चार्ज करते हैं। मोहम्मद दानिश का नेट वर्थ तीस लाख रुपये के ऊपर है। उम्मीद है कि इनका इनकम आने वाले समय में काफी तेजी से बढ़ेगा।


तो दोस्तों आपको मोहम्मद दानिश सिंगर की जीवनी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और साथ ही आपको mohammad danish biography in hindi के बारे में और भी कुछ जानना है तो हमसे जरूर पूछ सकते हैं। अगर आपको ये article अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें।


सूर के बेताज बादशाह सोनू निगम की जीवनी।

वनडे क्रिकेट के नए बादशाह बाबर आजम की कहानी।


वनडे क्रिकेट के नए बादशाह बाबर आजम का जीवन परिचय

वनडे क्रिकेट के नए बादशाह बाबर आजम का जीवन परिचय

किंग कोहली की बादशाहत खत्म करने वाले बाबर आजम की जीवनी | Babar Azam Biography In Hindi

Babar azam biography in hindi, babar azam success story in hindi
Babar Azam Biography In Hindi

एकदिवसीय क्रिकेट में दुनिया को एक ऐसा बादशाह मिला है जिसने 1258 दिन तक वनडे क्रिकेट में अपनी बादशाहत कायम रखने वाले किंग कोहली को उनके नम्बर 1 पोजीशन से हटा दिया है। जी हाँ उस नए बादशाह ने बहुत ही कम समय में सारी दुनिया के क्रिकेट प्रेमियों को अपना दीवाना बना लिया है।


एक ऐसा क्रिकेटर जिसको तीन-चार साल पहले तक कोई नहीं जानता था, जिसके नाम की कोई चर्चा नहीं होती थी। बीते कुछ दिनों में उसने ऐसा प्रदर्शन किया कि आज दुनिया का नम्बर 1 बल्लेबाज बन गया?


ऐसा बड़ा कारनामा करने वाले हैं पाकिस्तान के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज और वर्तमान में दुनिया के नम्बर 1 वनडे बल्लेबाज बाबर आजम ने। आज हर तरफ सिर्फ बाबर आज़म के नाम की चर्चा हो रही है, लोग बाबर आजम के बारे में जानना चाहते हैं और उम्मीद है आपको भी बाबर आजम के बारे में जानने की बहुत उत्सुकता होगी।


लेकिन क्या आप जानते हैं इस बड़े मुकाम तक पहुँचने के पीछे का राज क्या है, इस मुकाम को पाने के लिए बाबर आज़म को किन कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, उनको कैसे-कैसे हालातों का सामना करना पड़ा है?


अगर आपको इन सभी बातों का जवाब जानना है तो आप बाबर आजम का पूरा जीवन परिचय जरूर पढ़ें क्योंकि हम आपको बाबर आजम से जुड़ी उनकी निजी जिंदगी, उनके कैरियर के बारे में कुछ ऐसे रोचक जानकारी बताने वाले हैं जिसको जानना हर क्रिकेट प्रेमी के लिए बहुत जरूरी है।


हर वैसे आदमी को जानना जरूरी है जो ये जानना चाहता है कि बाबर आजम कैसे विराट कोहली जैसे महान बल्लेबाज को पछाड़ दिया? यकीन मानिए हम आपको बाबर आजम से जुड़ी कुछ ऐसी जानकारी देंगे जिसको जानकर आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे। जिसके बारे में शायद ही आपको कहीं और जानकारी मिल पायेगा।


तो चलिए बिना किसी देरी के बहुत ही कम समय में क्रिकेट की दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाने वाले बाबर आजम की जीवनी के बारे में पूरे विस्तार से जानते हैं।


बाबर आजम का जीवन परिचय | Biography Of Babar Azam In Hindi


दोस्तों बाबर आजम का जन्म 15 अक्टूबर 1994 को पाकिस्तान के लाहौर में हुआ था।

बाबर आजम का पूरा नाम- मोहम्मद बाबर आजम
निकनेम- बाबा और बेबी
हाइट- 5 फीट 9 इंच
वजन- 62kg
प्रोफेशन- पाकिस्तानी क्रिकेटर
भूमिका- दाएं हाथ के बल्लेबाज और पार्ट टाइम स्पिन गेंदबाज


बाबर आजम का परिवार | Babar Azam Family


बाबर आजम के पिता का नाम- आजम सिद्दकी
भाई का नाम- सफीर आजम, फैजल आजम
बहन का नाम- फारिया आजम


बाबर आजम का बचपन | Babar Azam Early Life Story In Hindi


दोस्तों बाबर आजम के पिता के सरकारी शिक्षक थे लेकिन परिवार बड़ा होने के वजह से उनके पिता बाबर को मनपसंद की चीजें नहीं खरीद पाते थे। जिसके चलते उनको क्रिकेट के जरूरी सामान भी नहीं मिल पाता था।


लेकिन कहते हैं कि सबके सफलता के पीछे किसी न किसी का हाथ जरूर होता है। एक दिन बाबर आजम की माँ ने उनसे पूछा कि आपको अपना कैरियर किस क्षेत्र में बनाना है और आपको क्या करना पसंद है।


बाबर को तो पहले से क्रिकेट खेलने का काफी शौक था। उन्होंने बिना देरी किये अपने माँ से क्रिकेट में करियर बनाने की बात कही लेकिन मेरे पास क्रिकेट खेलने के लिए कुछ भी नहीं है। बेटे के सपने को पूरा करने के लिए बाबर की माँ ने अपने जेवर बेचकर एक बल्ला खरीदा और लाहौर के एक क्रिकेट अकादमी में दाखिला करवा दिया। इसके बाद तो मानों बाबर के जीवन में सपनों को पाने का पंख लग गया।


बाबर आजम का अंतराष्ट्रीय क्रिकेट करियर | Babar Azam Success Story In Hindi


बाबर आजम को बचपन से ही क्रिकेट खेलने का बहुत शौक था। आजम के खेलने की शैली ने पाकिस्तानी सेलेक्टर्स को काफी प्रभावित किया और उनको बहुत ही कम समय में विश्व चेम्पियनशिप के लिए पाकिस्तान अंडर-15 टीम में शामिल कर दिया गया। इस टूर्नामेंट में बाबर आजम ने बहुत ही शानदार प्रदर्शन करके सबका दिल जीत लिया।


इसके बाद जल्दी ही बाबर आजम का सेलेक्शन  2012 में अंडर-19 टीम में हो गया जहाँ इनको कप्तान की भूमिका दी गई। यहाँ भी अपनी छाप छोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी और शानदार प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान के तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बनें। अपने इस प्रदर्शन से उन्होंने सारे क्रिकेट प्रेमियों का ध्यान अपनी तरफ खींचा।


ये भी पढ़ें:-● यॉर्कर किंग के नाम से मशहूर टी नटराजन की जीवनी।

आईपीएल के युवा सनसनी तेज गेंदबाज चेतन सकारिया की जीवनी।


जिसके बाद उनका सेलेक्शन पाकिस्तान के अंतराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में हो गया। बाबर आजम ने पहला वनडे मैच 31 मई 2015 को जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला और अपने पहले ही मैच में 54 रनों की शानदार पारी खेली और अपने पहले ही मैच में 60 गेंद पर 54 रन बनाकर अपनी प्रतिभा का परिचय दिया।


लेकिन बाबर आजम के करियर में सुनहरा पल तब आया जब 2016 में वेस्टइंडीज के घरेलू दौरे पर तीन मैचों के तीन पारियों में लगातार तीन शतक लगाकर अपने प्रतिभा का लोहा मनवाया। इस प्रदर्शन से उन्होंने पाकिस्तान के ही दो महान बल्लेबाज सईद अनवर और जहीर अब्बास के रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली।


इसके बाद बाबर आजम ने पहला टी-ट्वेंटी मैच 7 सिंतबर 2016 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला था, जिसमें उन्होंने नाबाद 15 रन बनाकर अपने टीम को मैच जितवाया। जिसके बाद इनका सेलेक्शन टेस्ट क्रिकेट में भी हो गया।


बाबर आजम ने अपना पहला टेस्ट मैच 13 अक्टूबर 2016 को वेस्टइंडीज टीम के खेला था जिसमें उन्होंने 90 रनों की शानदार पारी खेली थी और पाकिस्तान टीम में अपना जगह हमेशा के लिए बनाने में कामयाब रहे। इसके बाद बाबर आजम ने करियर में कभी भी पीछे मुड़ कर नहीं देखा और एक के बाद एक रिकॉर्ड बनाते चले गए।


फिर 2021 में दक्षिण अफ्रीका के साथ हुए तीन क्रिकेट मैचों की एकदिवसीय सीरीज में बाबर आजम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एक शतक और एक अर्धशतक सहित 228 रन बनाए। लगातार एक के बाद एक शानदार प्रदर्शन के बदौलत बाबर आजम ने 1258 दिनों से चले आए रहे किंग कोहली के बादशाहत को खत्म करते हुऐ दुनिया के नम्बर 1 वनडे बल्लेबाज बनें।


आपको बता दें कि बाबर आजम वनडे क्रिकेट में नम्बर एक बल्लेबाज बनने से पहले टी-ट्वेंटी में दुनिया के नम्बर एक बल्लेबाज रह चुके हैं।


बाबर आजम क्रिकेट रिकॉर्ड | Interesting Facts About Babar Azam 10 World Record In Hindi


1. क्या आप जानते हैं कि बाबर आजम ने 45 पारियों में सबसे तेज 2000 एकदिवसीय रन बनाने वाले पाकिस्तानी बल्लेबाज हैं?


2. बाबर आजम वनडे क्रिकेट में सबसे कम 68 पारियों में 3000 रन बनाने वाले एशियाई बल्लेबाज है।


3. बाबर आजम के नाम सबसे तेज शतक लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है, जिन्होंने ये कारनामा सिर्फ 33 पारियों में खेलकर किया था।


4. बाबर आजम के पास सिर्फ 26 पारियों में सबसे तेज 1000 टी-ट्वेंटी रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है।


5. एक पाकिस्तानी बल्लेबाज के रूप में बाबर आजम के नाम किसी एक विश्व कप में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। जिसको उन्होंने 2019 वर्ल्ड कप के दौरान बनाया था।


6. बाबर आजम दुनिया के एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने 80 से कम पारियों में 13 शतक लगाया हो। उन्होंने ये रिकॉर्ड 2021 में हुए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज में खेलते हुए 76 पारियों में बनाया था। इससे पहले ये रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के ही बल्लेबाज हाशिम अमला के नाम था जिन्होंने 83 पारियों में 13 शतक पूरे किए थे।


7. बाबर आजम दुनिया के एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने एक वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा 360 रन बनाये है। उन्होंने ये रिकॉर्ड 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाया था।


8. क्या आप जानते हैं कि बाबर आजम वनडे क्रिकेट में दुनिया का नम्बर एक बल्लेबाज बनने वाले सिर्फ चौथे पाकिस्तानी बल्लेबाज हैं।


9. बाबर आजम किसी एक टी-ट्वेंटी मैच में सबसे ज्यादा व्यक्तिगत स्कोर बनाने वाले पाकिस्तानी बल्लेबाज हैं। उन्होंने ये रिकॉर्ड 14 मार्च 2021 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 59 गेंदों में 122 रनों की धुंआधार बल्लेबाजी करते हुए बनाई थी। इससे पहले ये रिकॉर्ड अहमद सहजाद के नाम था,जिन्होंने 2014 में बांग्लादेश के खिलाफ नाबाद 111 रनों की पारी खेलकर बनाई थी।


10. बाबर आजम पाकिस्तान के एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने क्रिकेट के तीनों फॉरमेट- टेस्ट, वनडे और टी-ट्वेंटी में दुनिया के टॉप 5 बल्लेबाजों में अपनी जगह बनाई है।


बाबर आजम से जुड़ी कुछ विवाद


कहते हैं सफलता की ऊंचाई पर चढ़ते हुए कई बार विवादों का भी सामना करना पड़ता है। बाबर आजम भी इससे अछूते नहीं रहे। 2020 में एक पाकिस्तानी महिला ने बाबर पर यौन शोषण का गम्भीर आरोप लगाकर सबको अचंभित कर दिया था।


महिला द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद बाबर आजम पर एफआईआर दर्ज हुआ और उनके मामले की सुनवाई अभी पाकिस्तान के एक कोर्ट में चल रही है। इन आरोपों पर बाबर पहले  ही जवाब दे चुके हैं। उनका कहना है कि ये मेरा निजी मामला है और हम इसे कोर्ट में सुलझा लेंगे। इससे मेरे करियर पर कोई असर नहीं पड़ेगा।


अपने कहे अनुसार वाकई उनके करियर पर कोई असर नहीं पड़ा है और एक के बाद एक इतिहास रचते जा रहे हैं। देखना है कि आने वाले समय में बाबर आजम और कितने क्रिकेट के रिकॉर्ड को तोड़ते हैं और अपना नाम इतिहास के पन्नों पर दर्ज कराते हैं।


बहुत सारे क्रिकेट प्रेमी Babar Azam v/s Virat Kohli की बात करते हैं। आप कमेंट करके बताएं कि इन दोनों में कौन सबसे बेहतरीन क्रिकेटर है या फिर इसके बारे में जानने के लिए हमें कुछ और समय का इंतजार करना चाहिए।


बाबर आजम की कुल इनकम | Babar Azam Net Worth


दोस्तों आइये अब बाबर आजम के कुल इनकम के बारे में जानते हैं। बाबर आजम को एक टेस्ट मैच खेलने के लिए लगभग 2 लाख रुपये मिलते हैं तो वहीं एक वनडे मैच खेलने के लिए उनको 80 हजार रुपये मिलते हैं और एक टी-ट्वेंटी मैच खेलने के लिए 50 रुपये मिलते हैं।


वहीं इनको PSL(पाकिस्तानी क्रिकेट लीग) में एक सीजन के लिए 1 करोड़ रुपये मिलते हैं। इसके अलावा उनको पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड उनको सालाना सबसे ज्यादा 5,20,000 रुपये फीस के रूप में देती है।


अगर बाबर आजम के नेट वर्थ के बारे में बात करें तो इनके पास लगभग 31 करोड़ रुपये की सम्पति है। अगर बाबर आजम के वाइफ के बारे में बात करें तो इन्होंने अभी तक शादी नहीं की है।


दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको बाबर आजम की जीवनी काफी पसंद आई होगी और आपको इनके बारे में बहुत कुछ जानने को भी मिला होगा। अगर आपको Babar Azam Biography in Hindi पसन्द आयी हो तो इसे शेयर जरूर करें। आपका धन्यवाद।।


ये भी पढ़ें:- 

तूफानी बल्लेबाज केएल राहुल का जीवन परिचय।

धाकड़ बल्लेबाज हार्दिक पांड्या का जीवन परिचय।


चेतन सकारिया का जीवन परिचय | Chetan Sakariya Biography In Hindi

चेतन सकारिया का जीवन परिचय | Chetan Sakariya Biography In Hindi

उभरते तेज गेंदबाज चेतन सकारिया की जीवनी | Chetan Sakariya Success Story In Hindi

Chetan sakariya biography in hindi, chetan sakariya success story in hindi
Chetan Sakariya Biography In Hindi

आईपीएल 2021 का सीजन शुरू हो चुका है। उम्मीद है कि हर बार की तरह इस बार भी भारतीय टीम को कुछ नए सितारे मिल सकते हैं। आज हम आपको भारत के एक ऐसे उदीयमान खिलाड़ी के बारे में बताने वाले हैं जो आने वाले समय में निश्चित तौर पर टीम इंडिया का एक अहम हिस्सा होगा।


आईपीएल 2021 के नीलामी के दौरान दुनिया के कई बड़े खिलाड़ियों को रिकॉर्ड पैसों में खरीदा गया तो वहीं इस नीलामी में भारत के कुछ ऐसे उभरते हुए टैलेंट का नाम आया जो आने वाले समय में निश्चित ही भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते दिखेंगे। उन सभी खिलाड़ियों में से एक नाम चेतन सकारिया का भी है जिसने टैक्सी चालक के बेटे से करोड़पति बनने तक का सपना देखा।


आईपीएल 2021 की नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने चेतन सकारिया को 1 करोड़ 20 लाख में अपने टीम में खरीदा। ये नीलामी चेतन सकारिया के लिए सपने सच होने जैसा था क्योंकि ये आईपीएल उनके कैरियर के लिए मिल का पत्थर साबित हो सकता है और उनको आगे बढ़ने का मौका भी दे सकता है। यहीं से शुरू होता है चेतन सकारिया के सफलता की कहानी की।


कहते हैं कि जिसमें असफलताओं को डंटकर सामना करने की हिम्मत है, उसमें मिलने वाली चुनौतियों को स्वीकार करने की ताकत हो, जिसमें अपने कमियों को दूर करने का जज्बा हो, जब तक सफलता हाथ न लगे तब तक नींद न आता हो। ये सभी बात आईपीएल 2021 में राजस्थान रॉयल्स के नए तेज गेंदबाज चेतन सकारिया की जीवनी पर बिल्कुल फिट बैठता है।


Chetan Sakariya Biography In Hindi | चेतन सकारिया की जीवनी


दोस्तों चेतन सकारिया का जन्म 28 फरवरी 1998 को गुजरात के भावनगर में हुआ था।


पूरा नाम- चेतन सकारिया
निकनेम- चेतन
उम्र- 23 वर्ष(2021 के अनुसार)
पेशा- क्रिकेटर
भूमिका- तेज गेंदबाज
हाइट- 5 फीट 8 इंच
वजन- ग्रा
आंख का रंग- काला
बाल- काले रंग का
त्वचा- हल्का भूरे रंग का
राष्ट्रीयता- भारतीय
धर्म- हिन्दू
वैवाहिक जीवन- अविवाहित
कोच- राजेन्द्र गोहिल


चेतन सकारिया का फैमिली | Chetan Sakariya Parents


पिता का नाम- कांजी भाई
माता का नाम- वर्षाबेन
भाई- राहुल सकारिया(मृत)
बहन- जिग्नासा


Chetan Sakariya Struggle Life Story In Hindi


आइये दोस्तों चेतन सकारिया के बचपन के बारे में जानते हैं। चेतन के गरीबी का ऐसा हाल की क्रिकेट खेलने के लिए पांव में जुते तक नहीं थे लेकिन ऐसी हालत में क्रिकेट का जुनून ऐसा की इतनी सारी मुश्किलें भी कम लगती थी।


ये भी पढ़ें:- यॉर्कर किंग टी नटराजन की जीवनी।


पांव में पहला जूता तब आया जब एक बल्लेबाज ने चेतन से आउट करने का शर्त लगा दिया। फिर क्या था चेतन ने उसको आउट कर दिया और वो बल्लेबाज ने अपना जूता गिफ्ट में उसे दे दिया।


परिवार के इतने माली हालत होते हुए भी चेतन अपना अभ्यास करना एक दिन भी नहीं छोड़ा। आईपीएल 2021 के नीलामी से दो साल पहले पिता ने टेम्पो चलाना छोड़ किसी दूसरे काम की तलाश में लग गए ताकि वो परिवार के जरूरतों को पूरा कर सकें।


चेतन सकारिया को क्रिकेट का ऐसा खुमार रहता था कि घर पर टीवी न होने के बावजूद अपने दोस्त के घर पर जाकर टीवी देखा करते थे और क्रिकेट के बारीकियों को ध्यान लगाकर समझते थे।


परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छा नहीं होने के चलते चेतन को पिछले कुछ समय से काफी मुश्किल परिस्थितियों से गुजरना पड़ा। जनवरी 2021 में चेतन सकारिया के छोटे भाई ने आत्महत्या कर लिया, जिसके बाद परिजनों में शोक का माहौल छा गया।


भाई के आत्महत्या के दौरान चेतन सकारिया शैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में टीम खेल रहे थे लेकिन उनके परिवार वालों ने इस बात की जरा भी भनक चेतन को नहीं लगने दी। टूर्नामेंट खत्म होने के बाद चेतन सकारिया जब वापस घर लौटे तो अपने भाई के मौत का खबर सुन सन्न रह गए। उनको इस बात का मलाल हमेशा रहता है कि काश! अगर भाई जिंदा होता तो आज सबसे ज्यादा खुश होता।


चेतन सकारिया का क्रिकेट करियर | Chetan Sakariya Success Life Story In Hindi

Chetan sakariya international cricket career in hindi, chetan sakariya success story in hindi
Chetan Sakariya Cricket Career

आईपीएल ने कई सारे गरीब क्रिकेटरों को सहारा दिया तो कई क्रिकेटर के लिए किस्मत चमकाने के जरिया बन गया। दुनिया के सबसे बड़ी टी-ट्वेंटी लीग में खेलना सारे क्रिकेटरों का सपना होता है और जब ये सपना पूरा होता है तो किसी सपने के सच होने जैसा लगता है।


18 फरवरी 2021 को जब आईपीएल के 14वें सीजन की नीलामी शुरू हुई तो देश-विदेश के कई सारे खिलाड़ियों को करोड़ों रुपये में खरीदा गया तो कुछ क्रिकेटरों को कम पैसों में खरीदा गया। लेकिन युवा क्रिकेटरों के लिए बस आईपीएल में सेलेक्शन हो जाना किसी चमत्कार से कम नहीं होता है।


कुछ ऐसा चमत्कार गुजरात के चेतन सकारिया के साथ भी हुआ जब राजस्थान रॉयल्स ने 1 करोड़ 20 लाख रुपये में अपने टीम में शामिल कर लिया। आज भले ही आईपीएल में अपने प्रदर्शन से धूम मचा रहा है।


चेतन सकारिया ने अपना लिस्ट ए में डेब्यू 2017-18 में सौराष्ट्र के लिए खेलते हुए विजय हजारे ट्रॉफी में किया था। चेतन सकारिया प्रथम श्रेणी में डेब्यू सौराष्ट्र के लिए खेलते हुए 2018-19 में रणजी ट्रॉफी में किया था। जहां उन्होंने अपने ही मैच में जबरदस्त छाप छोड़ते हुए पहली पारी में शानदार 5 विकेट चटकाए थे।


चेतन सकारिया ने टी-ट्वेंटी क्रिकेट करियर की शुरुआत 21 फरवरी 2019 को सैयद मुश्ताक अली ट्राफी में सौराष्ट्र के लिए खेलते हुए किया था।


चेतन सकारिया ने आईपीएल डेब्यू 12 अप्रैल 2021 को पंजाब किंग्स के खिलाफ करते हुए किया। जहाँ उन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन करके सभी का ध्यान खींचने में कामयाब रहे। इस मुकाबले में चेतन सकारिया ने 4 ओवरों में कुल 31 रन देकर 3 महत्वपूर्ण विकेट हासिल किए। जिसमें उन्होंने केएल राहुल, मयंक अग्रवाल जैसे धुरंधर बल्लेबाजों को आउट किया।


अभी हाल ही में बॉलीवुड की नई अभिनेत्री अनन्या पांडेय के साथ लव अफेयर में चेतन सकारिया का नाम जोड़ा जा रहा है। ये बात कितना सच है आने वाले समय में पता चल ही जायेगा। लेकिन इनके प्रदर्शन को देखते हुए कहा जा सकता है कि इनका नाम किसी अभिनेत्री के साथ जुड़ता है तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होनी चाहिए।


चेतन सकारिया का नेट वर्थ


आइये दोस्तों गरीबी को पीछे छोड़ चुके चेतन सकारिया के नेट वर्थ के बारे में जानते हैं। 2021 के अनुसार चेतन का नेट वर्थ 1 करोड़ रुपये है जो हम उम्मीद करते हैं कि आने वाले समय में अपने प्रतिभा के दम पर इसको और आगे बढ़ाएंगे।


अपनी मेहनत से चेतन ने ये साबित कर दिया कि अगर लक्ष्य को पाने का जुनून हो तो दुनिया की कोई भी मुश्किल रोक नहीं सकती। लगातार मेहनत के दम पर वे अपने साथी खिलाड़ियों से आगे निकलते गए और आज एक जाना पहचाना स्टार बन गए हैं। बचपन से ही सपनों को हासिल करने का जज्बा ऐसा ही उसको हासिल करके ही दम लिया।


दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको chetan sakariya biography in hindi काफी प्रेरणा देगा और आप भी अपने मुश्किलों को पीछे छोड़ सपनों को पाने के पीछे लग जाएंगे। अगर आपको चेतन सकारिया की जीवनी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें।


ये भी पढ़ें:-

● तूफानी हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या की जीवनी।

सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर की जीवनी।


Next CJI N.V. Ramana Biography & Story In Hindi

Next CJI N.V. Ramana Biography & Story In Hindi

Justice N.V. Ramana Biography In Hindi | अगले CJI एन वी रमना का जीवन परिचय

Next chief justice of india nv ramana biography in hindi, supreme court next chi nv ramana ki jivani
N.V. Ramana Biography In Hindi

कहते हैं कि अगर मंजिल को पाने का जज्बा हो तो दुनिया की हर मुश्किल छोटी लगने लगती है। इस कथन को सही साबित कर दिखाया है आंध्रप्रदेश के एक होनहार आदमी और माननीय सुप्रीम कोर्ट के सबसे वरिष्ठ जजों में से एक एन वी रमना ने।


सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश CJI एस ए बोबड़े का कार्यकाल 23 अप्रैल 2021 खत्म हो रहा है। ऐसे में अब उन्होंने अगले मुख्य न्यायाधीश के रूप में एन वी रमना का नाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास भेजा गया था, जिसको उन्होंने मंजूरी दे दी है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट दूसरे सबसे वरिष्ठ जज एन वी रमना का अगला मुख्य न्यायाधीश बनना तय हो गया है।


एन वी रमना देश के 48वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में 24 अप्रैल 2021 से अपना पदभार संभालेंगे। एक किसान का बेटे से देश के सबसे बड़े न्यायाधीश बनने के सफर की पूरी कहानी इस एन वी रमना की जीवनी के माध्यम से पूरी विस्तार से जानते हैं।


मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एन वी रमना की जीवनी | Biography Of Justice N.V. Ramana In Hindi


दोस्तों 27 अगस्त 1957 जस्टिस एन वी रमना का जन्म आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले के एक छोटे से गांव पोन्नावरम में एक किसान परिवार में हुआ था। बचपन से ही वकालत करने की रुचि ऐसी लगी जो अब देश के सबसे बड़े न्यायाधीश बनने तक पहुंच गई। 


एक किसान परिवार से होते हुए भी देश के सबसे सम्मानित पद तक पहुचना सबके लिए आसान नहीं होगा। जस्टिस एन वी रमना का पूरा नाम नुतलपाटी वेंकटरमण है। जस्टिस एन वी रमना के पत्नी का नाम शिवमाला है और उनकी दो बेटियां हैं। 

Daughters: N.V. Tanuja, N.V. Bhuvana


सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की नियुक्ति कैसे होती है?


आपके जानकारी के लिए बता दें कि सुप्रीम कोर्ट तय नियमों के अनुसार मुख्य न्यायाधीश के रिटायरमेंट के बाद दूसरे सबसे सीनियर जज को सुप्रीम कोर्ट के सबसे मुख्य न्‍यायाधीश के पद पर नियुक्‍त किया जाता है। नए मुख्य न्यायाधीश के पद के लिए देश के कानून मंत्री वर्तमान समय के मुख्य न्यायाधीश से उनके अगले उत्तराधिकारी का नाम मांगा जाता है।


जिसके बाद भारत के मुख्य न्यायाधीश अपने बाद सबसे सीनियर जज के नाम की सिफारिश कानून मंत्री को चिट्ठी लिखकर करते हैं। इसके बाद सीजेआई से जज के नाम की सिफारिशी चिट्ठी मिलने के बाद कानून मंत्री इसे वर्तमान प्रधानमंत्री के सामने रखते हैं। फिर इसके बाद मुख्य न्यायाधीश के नाम की सिफारिश राष्ट्रपति के पास भेजी जाती है।


जहां देश के राष्ट्रपति सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के नाम पर अंतिम मुहर लगाता है। वर्तमान में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एसए बोबडे 23 अप्रैल 2021 को अपने कार्यकाल से सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उन्‍होंने वर्तमान जस्टिस एन वी रमना को 24 अप्रैल 2021 से देश के 48वें CJI के तौर पर नियुक्ति की सिफारिश की है। 


जिस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंजूरी दे दी है। एन वी रमना आंध्र प्रदेश से पहले शख्स हैं जो सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का पदभार संभालेंगे। इनका कार्यकाल का समय 26 अगस्त 2022 तक होगा।


जस्टिस एन वी रमना का कैरियर | Justice N.V. Ramana Full Career Details In Hindi


आइये अब भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना के कैरियर के बारे में पूरी विस्तार से जानते हैं।


जस्टिस एन वी रमना अपना कैरियर वकालत में बनाने से पहले दो साल तक एक क्षेत्रीय समाचार पत्र में एक पत्रकार के रूप में काम किया। लेकिन इनको लगा कि मैं इस काम के लिए नहीं बना हूँ तो सन 1980 में एक लॉ कॉलेज में अपना एडमिशन ले लिया।


अपनी पढ़ाई पूरी होने के बाद 10 फरवरी 1983 को एन वी रमना अपना रेजिस्ट्रेशन आंध्रप्रदेश हाई कोर्ट में एक लॉयर के रूप में कराया। जहाँ उनके काम के प्रति जुनून और ज्ञान को लेकर उनका नियुक्ति 27 जून 2000 को आंध्रप्रदेश के हाई कोर्ट के स्थायी जज के रूप में कर दी गयी। जहाँ उन्होंने एक से बढ़कर सराहनीय और साहसिक फैसले लिए। इसके अलावा उन्होंने आंध्र प्रदेश के अतिरिक्त महाधिवक्ता के रूप में भी काम किया है।


फिर उनके काम को देखते हुए उनका ट्रांसफर नई दिल्ली कर दिया गया। जहाँ उनकी नियुक्ति 2 सिंतबर 2013 को दिल्ली हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में कर दी गयी। यहाँ भी मुख्य न्यायाधीश के रूप में रहते हुए उन्होंने एक से बढ़कर फैसले लिए।


जिसको देखते हुए 17 फरवरी 2014 को उनकी नियुक्ति सुप्रीम कोर्ट में जज के रूप में कर दी गयी। तब से लेकर अभी तक उन्होंने देश से जुड़ी अनेकों संवेदनशील मामलों की सुनवाई कर चुके हैं या फिर उसमें शामिल रह चुके हैं। आगे देश के मुख्य न्यायाधीश के रूप में रहते हुए इनको और भी कई तरह के चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा।


जस्टिस एन वी रमना के महत्वपूर्ण फैसले


● जस्टिस एन वी रमना ने जम्मू कश्मीर में नवम्बर 2019 में धारा 370 हटने के बाद से बंद बड़े 3G/4G नेटवर्क के लिए केंद्र सरकार को ये कहते हुए चालू करने को कहा कि आप ज्यादा दिनों तक किसी के मूल अधिकार से वंचित नहीं रख सकते हैं।


आपको हर हाल में जम्मू कश्मीर के लोगों को नेट की सुविधाएं उपलब्ध करानी होगी। आप टेलिकॉम नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। जिसके बाद 2020 में तुरंत केंद्र सरकार को वहाँ सारी सुविधाएं शुरू करनी पड़ी।


● देश के सबसे बड़े न्यायाधीश के कार्यालय को भी RTI के दायरे में लाने का साहसिक फैसला एन वी रमना ने ही सुनाया था। उन्होंने ये फैसला ये कहते हुए सुनाया था कि देश के हर नागरिक को CJI कार्यालय के बारे में जानकारी रखने का अधिकार है। इससे आम जनता में CJI की साफ छवि बनी रहेगी।


जस्टिस एन वी रमना और वाईएस जगन मोहन रेड्डी से जुड़ी विवाद


एन वी रमना ने जीवन में जितने सफलता हासिल की है उतना ही उनका विवादों से भी नाता रहा है। इन पर  अक्टूबर 2020 में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने अक्टूबर 2020 को भारत के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबड़े को पत्र लिखकर इन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाया।


अपने पत्र में उन्होंने आरोप लगाया कि एन वी रमना और उनके करीबी रिश्तेदार आंध्रप्रदेश में अवैध रूप से जमीन के खरीद परोख्त में शामिल थे और उनके सरकार को गिराने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इतने बड़े गंभीर आरोप को जांच कर उनपर उचित कार्रवाई करने की मांग की थी।


जिसके बाद दिल्ली उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन ने आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी द्वारा लिखे गए इस पत्र की काफी निंदा की और अखिल भारतीय वकील संघ ने रेड्डी पर जुर्माना लगाने का फैसला किया और कहा कि यदि इनके द्वारा लगाए गए आरोपी बेबुनियाद होंगे तो उनको दण्डित भी किया जाएगा। आपको बता दें कि अभी तक ये मामला सुलझा नहीं है और इसकी पूरी सुनवाई होनी बाकी है। देखते हैं कि आगे जस्टिस रमना अपना कार्यकाल किस तरह से पूरा करते हैं ये आने वाला समय बताएगा।


हम उम्मीद करते हैं कि भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना की जीवनी आपको काफी अच्छी लगी होगी। साथ ही अगर आपको अगले CJI N.V. Ramana के बारे में कोई और जानकारी जानना चाहते हैं तो कमेंट करके जरूर पूछ सकते हैं।


बीजेपी की फायरब्रांड निघत अब्बास की जीवनी।

देश के सबसे पॉपुलर शिक्षक खान सर की जीवनी।

राजनीति के चाणक्य अमित शाह की जीवनी।


निघत अब्बास का जीवन परिचय | Nighat Abbas Biography Hindi

निघत अब्बास का जीवन परिचय | Nighat Abbas Biography Hindi

विरोधियों की बैंड बजा देने वाली निघत अब्बास की जीवनी | Nighat Abbas Biography In Hindi

Nighat abbas biography in hindi, nighat abbas success life story in hindi
Nighat Abbas Biography In Hindi

दोस्तों आज हम देश के एक ऐसी महिला के बारे में बात करने वाले हैं जिसने बहुत ही कम समय में अपने ज्ञान और बेबाक बयान के बदौलत देश के हर कोने में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। एक ऐसी महिला जिसे भारत में महिला सशक्तिकरण का एक बेहतरीन और अदभुत उदाहरण कहा जाता है।


जी हाँ हम बात कर रहे हैं दिल्ली के छोटे से कोने से निकलकर देश में पल रहे देशद्रोहियों को मजा चखाने वाली निघत अब्बास की जीवनी के बारे में। जिसने पूरे देश में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया और लोगों को अपना मुरीद बनाया।


आज उनके प्रसिद्धि का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि देश का हर न्यूज़ चैनल अपने शो में निघत अब्बास को बुलाना चाहता है क्योंकि जिस दिन निघत अब्बास का लाइव डिबेट होता है उस दिन न्यूज़ चैनलों का TRP बढ़ना तय होता है।


निघत अब्बास चाहे ट्रिपल तलाक हो या धारा 370 हो या धर्म के नाम पर मौलवियों के गलत चेहरे को बेनकाब कर पूरे देश से सुर्खियां बटोरीं। तो आइए कैसे एक पुरुष प्रधान देश में अपनी राजनीति के अनूठे ज्ञान से एक अमिट छाप छोड़ने वाली निघत अब्बास की जीवनी के बारे में पूरी विस्तार से जानते हैं।


निघत अब्बास कौन है | Nighat Abbas Life Story In Hindi

Night abbas, nighat abbas ki jivani
Night Abbas

आज निघत अब्बास को पूरे भारत में कौन नहीं जानता है। देश का सुश्री निगहत अब्बास जी दिल्ली के लिए एक सक्रिय और प्रभावशाली भाजपा प्रवक्ता हैं। वह सभी सक्रिय मीडिया प्लेटफार्मों पर पार्टी का प्रतिनिधित्व करती है। राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों के बारे में समाचार चैनलों पर बहस करने और सार्वजनिक मीडिया शो में भाग लेने वाले वक्ता के रूप में वह देश में लोकप्रिय सार्वजनिक व्यक्ति हैं।


निघत अब्बास पेशे से एक राजनीतिक विश्लेषक और सामाजिक कार्यकर्ता है। इसके साथ ही आशा फाउंडेशन की ब्रांड एंबेसडर भी है। वर्तमान में वह दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी बीजेपी(भारतीय जनता पार्टी) के सदस्य और राष्ट्रीय प्रवक्ता है।


निघत अब्बास की जीवनी | Nighat Abbas: Biography, Height, Age, Family, Cast In Hindi


निघत अब्बास का जन्म 13 मई 1994 को दिल्ली में हुआ था।

पूरा नाम- निघत अब्बास
निकनेम(Nickname)- निघत
हाइट(Height)- 1.6 मीटर
वजन(Weight)- 60kg
भाई(Brother)- ज्ञात नहीं
उम्र(Age)- 27वर्ष
पति(Husband)- ज्ञात नहीं
माता(Mother)- ज्ञात नहीं
रंग(Color)- गोरा
वैवाहिक जीवन- अविवाहित


Nighat Abbas Education & Political Career In Hindi


आइये दोस्तों अब निघत अब्बास की शिक्षा और उनके राजनीतिक करियर के बारे में पूरी विस्तार से जानते हैं।


निघत अब्बास की शिक्षा दिल्ली से ही पूरी हुई। उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई दिल्ली विश्वविद्यालय से पूरी की है। अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने अपना कैरियर मार्केटिंग से शुरू की लेकिन कोई खास सफलता नहीं मिली। इसके बाद उन्होंने अपना किस्मत मीडिया प्रबंधन में आजमाया फिर उसके बाद रेस्टोरेंट का बिजनेस भी शुरू किया लेकिन यहाँ भी निराश हाथ लगी।


ये भी पढ़ें:- A2 Motivation{Arvind Arora} की जीवनी।


लेकिन कहते हैं न कि हिम्मत न हारो तो कभी हार नहीं होती। ये बात भी निघत अब्बास पर बिल्कुल फिट बैठती है। उनका जीवन तो किसी और काम के लिए था। आखिरकार उनको अपनी मंजिल तब मिली जब 2018 में मनोज तिवारी से जब उनकी मुलाकात हुई तो उनके पार्टी और विचारधारा से काफी प्रभावित हुई।


जिसके बाद निघत की प्रतिभा और पार्टी के प्रति लगाव को देखकर उन्होंने बीजेपी में शामिल कर लिया और जल्द ही दिल्ली भाजपा का राष्ट्रीय प्रवक्ता का दर्जा भी प्राप्त कर लिया और आज इस पार्टी के एक अभिन्न हिस्सा बन चुकी है। निघत अब्बास कई बार भारत के गृह मंत्री अमित शाह के साथ भी मंच साझा कर चुकी है।


निघत अब्बास टीवी शो में हिन्दू-मुस्लिम मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखने के लिए पूरे देश में चर्चित है। जिसके चलते उनको कई बार भारी विरोध का भी सामना करना पड़ा है और कई कट्टर मुस्लिम समर्थक को उनकी बात काफी चुभती रहती है। निघत भारत के सभी भारतीय समाचार चैनलों के बीच खासी लोकप्रिय है। वो अलग-अलग टीवी चैनलों पर हजारों बार बहस कर चुकी है।


तीन तलाक और धारा 370 जैसे संवेदनशील मुद्दों पर निघत अब्बास की शानदार बहस ने उनको पूरे देश का सहानुभूति और प्यारा मिला। ऐसे बहुत सारे मुद्दे हैं जिनपर उनका बहस देखने लायक होता है। अगर आपने उनके टीवी डिबेट अभी तक नहीं देखा है तो एक बार जरूर देखें। अपने शानदार टैलेंट के बदौलत देश के हर तबके के लोगों को अपना मुरीद बना चुकी है।


वह हमेशा कोशिश करती है कि अपने चाहने वालों को कभी निराश न करें। वो देश के हर मुद्दे पर अपनी राय खुलकर रखती है और सोशल मीडिया पर हमेशा लोगों से जुड़ी रहती है। निघत अब्बास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीवनी और उनके द्वारा किये गए सराहनीय कार्य की बहुत बड़ी फैन है।


निघत अब्बास के सराहनीय कार्य | Nighat Abbas NGO


निघत अब्बास एक शानदार राजनीतिक सेलेब्रिटी होने के साथ-साथ एक सामाजिक कार्यकर्ता भी है। आप सोच रहे होंगे कि मैं ऐसा क्यों कह रहा हूँ तो आपके जानकारी के लिए बता दें कि निघत अब्बास खुद का एक NGO भी चलाती है। जिसका नाम स्त्री रोशनी एनजीओ है। जिसमें देश के तमाम महिलाओं को उनके खिलाफ हो रहे अत्याचारों और सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ जागरूक कर उनसे लड़ने की प्रेरणा देती है।


वो महिलाओं को सशक्त बनाने और उनको शिक्षित करने पर काफी जोड़ देती है। उनका मानना है कि हर हाल में महिलाओं को शिक्षा से जोड़ना होगा तभी हमारा देश तेजी से आगे बढ़ सकता है।


निघत गरीबी रेखा से नीचे आने वाली लड़कियों को शिक्षा की सारी सुविधाएं मुहैया कराती है। साथ ही उनका 12वीं तक कि पढ़ाई का पूरा खर्च उनका NGO ही उठाता है। वह बालिका शिक्षा और बालिका स्वच्छता को सशक्त बनाने का सराहनीय कार्य बखूबी निभाती है।


उनके महिलाओं की स्वच्छता के प्रति किये गए उनके कार्य को लोगों ने काफी सराहा। उन्होंने अनेकों महिलाओं को बायोडिग्रेडेबल पैड्स के निर्माण को लेकर काफी जागरूक किया और मुफ्त में सैनिटरी पैड्स भी बांटे। वे हाल ही में योगी आदित्यनाथ द्वारा महिला सुरक्षा के लिए बनाए सख्त कानून की जमकर तारीफ करती आई है।


निघत अब्बास ने कई बार देश को प्लास्टिक को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित करने की भी मांग उठा चुकी है। वो हर जगह पर बालिका शिक्षा के बारे में खुलकर बात करती है। हम सभी उम्मीद करते हैं कि निघत अपना ये सराहनीय कार्य आगे भी जारी रखेंगी।


आप निघत अब्बास को ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वहाँ पर वो हर समय अपने बातों को रखती रहती है।

Nighat Abbas Twitter

Nighat Abbas Instagram


आपको निघत अब्बास की कौन सी खूबी सबसे ज्यादा पसंद आई कमेंट करके लिखना न भूलिएगा। साथ ही अगर आपको निघत अब्बास की जीवनी पसन्द आयी हो तो इसे शेयर जरूर करें।


खान सर पटना वाले का जीवन परिचय।

अर्जुन तेंदुलकर की जीवनी।

यॉर्कर किंग टी नटराजन की जीवनी

भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीवनी।

A2 Motivation {Arvind Arora} Biography & Success Story In Hindi

A2 Motivation {Arvind Arora} Biography & Success Story In Hindi

अरविंद अरोड़ा का जीवन परिचय | A2 Motivation {Arvind Arora} Biography In Hindi

Arvind arora biography in hindi, success story of arvind arora in hindi
Arvind arora biography in hindi

आज हम उस शख्स के बारे में बात करने जा रहे हैं जो भारत के पहले ऐसे यूट्यूब वीडियो क्रिएटर है जिन्होंने 2 बिलियन से भी ज्यादा व्यूज प्राप्त किये हैं। एक ऐसे शख्श के बारे में जानने वाले हैं जिसने बहुत सारे बच्चों को पढ़ने के लिए वित्तीय सहायता की, जिसने अपने amazing facts, मोटिवेशनल विचार से पूरे यूट्यूब जगत में एक अलग पहचान बनाया।


जी हाँ हम बात कर रहे हैं भारत के नम्बर एक यूट्यूब एजुकेशनल वीडियो क्रिएटर और A2 Motivation के फाउंडर अरविंद अरोड़ा सर की जीवनी के बारे में।


हम जानेंगे कि अपने जीवन में उन्होंने कैसे इतने ऊँचे मुकाम को हासिल किया, कैसे रातोंरात यूट्यूब और टिकटोक स्टार बन गए? तो आइए अरविंद अरोड़ा के संघर्ष से लेकर सफलता की कहानी तक का पूरा सफर जानते हैं।


A2 Motivation {Arvind Arora} Vedantu Biography In Hindi | अरविंद अरोड़ा सर की जीवनी


अरविंद अरोड़ा सर का जन्म राजस्थान के एक छोटे से कस्बे सूरतगढ़ में हुआ था। इनका परिवार एक निम्न मध्यमवर्गीय परिवार से जुड़ा हुआ है। अरविंद अरोड़ा के पिता एक दुकानदार थे और इनकी माता गृहणी का काम करती थी।


इनके परिवार में कोई ज्यादा पढा लिखा नहीं था, इसलिए सब यहीं सोचते थे कि अरविंद भी बड़ा होकर पिताजी के जैसे ही दुकान चलाएगा। लेकिन अरविंद अरोड़ा को तो बचपन से ही कुछ बड़ा करने की जैसे बहुत सवार थी।


अरविंद अरोड़ा कौन है? Who Is Arvind Arora


वैसे तो ये किसी परिचय के मोहताज नहीं है, लेकिन फिर भी अगर आप जानना चाहते हैं कि अरविंद अरोड़ा कौन है तो आपको बता दें कि इन्होंने अपना अधिकांश समय गुजरात में बिताया और अभी ये बैंगलुरू में रहते हैं। इन्होंने अपने यूट्यूब चैनल से पूरे देश के लोगों को अपना दीवाना बनाया। वर्तमान में इनके पास दो यूट्यूब चैनल है।

1. A2 Motivation {Arvind Arora} 

2. VEDANTU NEET MADE EJEE


इनके A2 Motivation चैनल पर अभी 6 मिलियन से भी ज्यादा सब्सक्राइबर है और VEDANTU NEET MADE EJEE पर 2 मिलियन से भी ज्यादा लोग इनके सब्सक्राइबर है। एक बेहतरीन youtuber के साथ-साथ इनका नाम एक बेहतरीन केमिस्ट्री टीचर और मोटिवेशनल स्पीकर के रूप में भी जाना जाता है। 


अरविंद अरोड़ा सर की शिक्षा | Arvind Arora Success Story In Hindi


अरविंद अरोड़ा सर को बचपन से ही पढ़ने में काफी दिलचस्पी रहती थी। उनके इस सफर में इनका परिवार वालों ने भी अच्छा साथ दिया। अरविंद अरोड़ा सर ने अपनी शुरुआती शिक्षा बहुत ही मुश्किल से पूरा किया। जैसे तैसे इन्होंने 12वीं पास किया।


पर सबसे बड़ी समस्या तो उस समय आया जब इन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने को ठानी। पिता ने गरीबी और पैसों की तंगी का हवाला देते हुए इंजीनियरिंग करने से मना कर दिया और उन्होंने कहा कि हम इतना ज्यादा फीस नहीं जमा कर सकते हैं।


फिर भी इन्होंने अपनी हिम्मत नहीं हारी और education लोन लेकर अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू कर दी। पहले साल तो खूब मन लगाकर पढ़ाई किये लेकिन दूसरे साल कॉलेज के चकाचौंध वाली दुनिया में गुम हो गए और इनकी गिनती क्लास के सबसे खराब लड़को में होने लगी।


लेकिन कहते हैं न कि चालाक के लिए इशारा काफी होता है। उनके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ जब एक दिन किसी होटल में एक परिवार खाना खाने आया और उसका बिल लड़का न भरकर उसकी माँ ने अपने जेब से भरा।


ये बात अरविंद अरोड़ा सर के दिल मे चुभ गयी और उन्होंने सोचा कि अगर मैं न बदला तो एक दिन मेरे साथ भी यहीं होगा जब मैं भी अपने फैमिली को कहीं खाना नहीं खिला पाऊंगा। वहीं से इन्होंने खुद को बदलने की ठान ली और उसके बाद से उन्होंने मन लगाकर पढ़ाई करना शुरू कर दिया और मई में सिल्वर मेडल के साथ कॉलेज से पास किया।


ये भी पढ़ें:- देश के सबसे पॉपुलर शिक्षक और यूट्यूब सनसनी खान सर की कहानी।


Arvind Arora Motivation & Professional Career In Hindi


कॉलेज पास करने के साथ इनके पास एक जॉब का भी लेटर था लेकिन वो जॉब अगले साल फरवरी में लगने वाली थी। इतने लंबे समय का गैप देखकर इन्होंने एक जगह जॉब करने लगे। पहली बार लगभग ग्यारह हजार की नौकरी शुरू की। फिर किसी कॉलेज से बीस हजार का भी आफर आया। उसी बीच इनको एक इंस्टिट्यूट में पढ़ाने का आफर आया।


जहाँ इन्होंने अपने मेहनत और पढ़ाने के विशेष शैली के वजह से उस बंद पड़े इंस्टिट्यूट को दो साल के अंदर चमका दिया। इसके लिए ये रात को दो-दो बजे तक पोस्टर चिपकाया करते थे और दिन में बच्चों को पढ़ाते थे। उस समय इनको लगा कि अब लाइफ सेट हो गया है लेकिन उनके इतने मेहनत का बावजूद इंस्टीट्यूट के मालिक ने धोखा दिया और इनको वहाँ से निकाल दिया गया।


अरविंद अरोड़ा सर कहते हैं कि एक बात अपने जीवन में हमेशा याद रखना कि लोग आपको अपनी औकात बताएंगे, लोग आपको जिंदगी के हर मोड़ पर नीचा दिखाने की कोशिश करेंगे लेकिन आप उनके तानों को ध्यान से सुनों, अपने दिमाग में बैठा लो परन्तु उसका जवाब कभी पलट कर मत देना क्योंकि जिस दिन आपने जवाब दे दिया आप उस दिन से वो ऊंचाई हासिल नहीं कर सकते हैं जो आप कर सकते थे।


अरविंद सर ने भी यहीं किया और वहाँ से बिना कुछ कहे अपने जीवन में कुछ अलग करने का सपना लेकर सूरत के लिए निकल गए। सूरत में पैसों की कमी के वजह से ये कोई काम की तलाश करने लगे। वहाँ उनको एक जगह ओर केमिस्ट्री पढ़ाने का मौका मिला।


पर केमिस्ट्री की अच्छी जानकारी के लिए इन्होंने अपना पूरा फोकस यूट्यूब पर दे डाला। यूट्यूब पर वे केमिस्ट्री पढ़ाने वाले अलग-अलग यूटूबर की वीडियो देखनी शुरू की और केमिस्ट्री पढ़ानी शुरू कर दी। देखते ही देखते अपने पढ़ाने के विशेष शैली के कारण सबके चहेते बन गए। अब इनका लाइफ फिर से सेट हो चुका था। अब वे सूरत से बैंगलुरू में जाकर vedantu से जुड़ गए हैं और अब वहीं पर अपना एक घर भी खरीद लिया है।


A2 Motivation {Arvind Arora} Youtube Journey In Hindi

Arvind arora youtube journey in hindi, arvind arora success story in hindi
Arvind Arora Youtube Journey

एक दिन उन्होंने सोचा कि अपने ज्ञान को क्यों न यूट्यूब पर डाल दें? शुरुआत में तो इनको यूट्यूब पर कोई खास सफलता नहीं मिली फिर भी इन्होंने वीडियो डालना कभी नहीं छोड़ा। एक खास घटना के बाद इन्होंने टिकटोक पर वीडियो डालना शुरू कर दिया।


देखते ही देखते टिकटोक पर इनकी फैन फॉलोइंग इतनी बढ़ गयी कि सारे टिकटोकर को पीछे छोड़ दिया और बहुत ही कम समय में 7.2 मिलियन सब्सक्राइबर को पार कर लिया। लेकिन कुछ ही दिनों बाद भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव के कारण नरेंद्र मोदी सरकार ने टिकटोक को इंडिया में बैन कर दिया।


ये इतने पर भी रुकने वाले नहीं थे। टिकटोक बैन हो जाने के बाद टूटने के बजाय और तेजी से उठे और सोचा कि एक दरवाजे बंद हो गए तो क्या हुआ ऐसे हजारों दरवाजे अभी खुले पड़े हैं। उस वीडियो को इन्होंने यूट्यूब पर डालना शुरू कर दिया।


लेकिन इनके यूट्यूब करियर में नया मोड़ उस समय आया जब यूट्यूब ने यूट्यूब शॉट्स लांच किया। फिर तो अरविंद अरोड़ा के यूट्यूब चैनल रॉकेट की तरह उड़ने लगा और मात्र 4 महीने में चार मिलियन से भी ज्यादा बढ़ गए।


आज भारत में यूट्यूब पर सबसे ज्यादा educational चैनल है। ये पहले ऐसे एजुकेशनल वीडियो क्रिएटर है जिन्होंने 2 बिलियन से भी ज्यादा व्यूज प्राप्त किये। आप यूट्यूब पर A2 Motivation {Arvind Arora} चैनल पर जाकर इनके वीडियो के बारे में जान सकते हैं।


3 Tips: How To Success On Social Media In Hindi By Arvind Arora


1. Confidence: अरविंद अरोड़ा सर के अनुसार सोशल मीडिया पर काम करने के लिए अगर किसी चीज की सबसे ज्यादा जरूरी है तो वो confidence ही है। बहुत सारे लोग काम तो करते हैं पर उनके अंदर जरा भी कॉन्फिडेंस ही नहीं होता है कि वो success हो सकते हैं।


2. Content: इनका मानना है कि अगर आपके content में जरा भी दम है तो आपको सोशल मीडिया पर पॉपुलर होने से कोई नहीं रोक सकता। इसलिए बिना किसी बहाने के अपने कंटेंट पर ध्यान देते रहें एक दिन आपको सफलता जरूर मिलेगी।


3. Consistency: अगर आपको सोशल मीडिया पर सफलता हासिल करनी है तो confidence और content के साथ-साथ आपको consisitency भी रखनी होगी। अगर आपके अंदर ये तीनों चीजें नहीं तो फिर सोशल मीडिया पर सफलता हासिल नहीं कर सकते हैं।


Arvind Arora Net worth & Salary


दोस्तों अरविंद अरोड़ा की सैलरी के बारे में कोई फैक्ट जानकारी तो उन्होंने अभी तक नहीं बताया है लेकिन अपनी net worth के बारे में जरूर एक बार बताया था। जिसमें Arvind arora total net worth 50 लाख से 3 करोड़ के बीच बताया था। अब आप अच्छी तरह जान ही गए होंगे कि अरविंद अरोड़ा की कुल सम्पति कितनी है


अरविंद अरोड़ा सर से जुड़ी कुछ व्यक्तिगत जानकारी


बहुत सारे लोग अरविंद अरोड़ा सर के age, wife name इत्यादि के बारे में जानने की इच्छा रखते हैं लेकिन इन्होंने कभी भी किसी मंच पर इन सबके बारे में कोई जानकारी नहीं दी है। Arvind Arora की height 5 फिट 8 इंच है और वजन 64 kg है।


हम उम्मीद करते हैं कि आपको अरविंद अरोड़ा सर की जीवनी काफी पसंद आई होगी। अगर आपको अरविंद अरोड़ा सर की कहानी मोटिवेशनल लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें।


दुनिया के सबसे बुद्धिमान व्यक्ति अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी।

● यॉर्कर किंग टी नटराजन का जीवन परिचय

एक महान बास्केटबॉल प्लेयर कैसे बनें?

भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना की जीवनी।


Khan Sir Patna Biography & Success Story In Hindi

Khan Sir Patna Biography & Success Story In Hindi

कॉमेडी किंग और देश के सबसे चहेते शिक्षक खान सर का जीवन परिचय | Khan Sir Patna Biography In Hindi

Khan sir patna biography in hindi, khan sir patna success story in hindi
Khan Sir Patna Biography In Hindi

अगर आप देश-दुनिया के खबरों के बारे में पूरी विस्तार से जानने की इच्छा रखते हैं और उसके अंदर की छुपी हर एक राज को जानना चाहते हैं तो आपने यूट्यूब पर खान सर का वीडियो जरूर देखा होगा। आज वे किसी परिचय के मोहताज नहीं है कि खान सर कौन है?


खान सर बिहार के पटना शहर में बहुत बड़े कोचिंग संस्थान Khan GS Research Centre के संस्थापक और एक बहुत अच्छे टीचर भी है। जो कि अपने पढ़ाने के एक विशेष शैली के चलते कुछ ही समय में पूरे देश में उनकी पहचान एक अलग स्तर के टीचर के रूप में होने लगी है।


उनके पॉपुलैरिटी का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि 2019 में ही शुरू हुए उनके यूट्यूब चैनल को भारत के सबसे बेस्ट यूट्यूब वीडियो creater के लिए 8वें स्थान पर रखकर उनको सम्मानित किया है। जो कि अबतक किसी और education चैनल ने ये सम्मान प्राप्त नहीं किया है।


खान सर के पढ़ाने के सबसे खास बात ये है कि ये हर बात को इतनी आसानी से देशी अंदाज में समझाते हैं कि इनके द्वारा पढ़ाई गयी सारी बात को लोग पहली बार में ही समझ जाते हैं और इनके मुरीद हो जाते हैं। इनके पढ़ाने के विशेष शैली के वजह से लोग इनको दूसरा अब्दुल कलाम के नाम सर पुकारते हैं।


आज हम खान सर के बारे में पूरी जानकारी देंगे जो आजतक आपलोग इनके बारे में नहीं जानते होंगे। साथ ही खान सर की जीवनी में हम जानेंगे कि कैसे खान सर एक साधारण आदमी से देश के सबसे चर्चित शिक्षक के रूप में प्रसिद्ध हुए? तो चलिए दोस्तों खान सर के जीवन परिचय के बारे में पूरी विस्तार से जानते हैं।


खान सर की जीवनी और उनका परिवार


खान सर का जन्म उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था। खान सर के पिता इंडियन आर्मी में कार्यरत थे, जो कि इस समय रिटायर्ड हो चुके हैं। इनके माता जी एक गृहणी है। इनके एक भाई भी है जो कि एक कमांडो है।


Khan Sir Patna Full Name | खान सर का असली नाम


खान सर का पूरा नाम मोहम्मद अरशद खान है। लेकिन उनसे पूछे जाने पर वो सिर्फ इतना कहते हैं कि लोग उनको सिर्फ खान सर के ही नाम सर जानें। आज पूरे देश में ये खान सर पटना वाले के नाम से चर्चित है। खान सर की उम्र लगभग 28 साल है।


खान सर पटना वाले का बचपन और उनके सराहनीय कार्य | Khan Sir Success Story in Hindi


खान सर को बचपन से ही इच्छा हमेशा देश सेवा करने की रहती है। इसलिए उनका सपना था कि वो भी एक भारतीय सेना में शामिल होकर देश की सेवा करना चाहते थे। इसके लिए इन्होंने यूपीएससी द्वारा आयोजित NDA की परीक्षा भी दिए। जिसमें ये लिखित परीक्षा में तो पास हो गए लेकिन इनका हाथ सीधा नहीं होने के कारण इनको अयोग्य करार दिया गया। जिसके कारण इनका ये सपना हमेशा के लिए अधूरा रह गया।


ये भी पढ़ें:- मिसाइल मैन के नाम सर मशहूर एपीजे अब्दुल कलाम की जीवनी।


NDA में सेलेक्शन ना होने के कारण वे बहुत दुःखी हुए, पर खान सर के परिवार ने उनका हिम्मत बढ़ाते हुए कहा कि तुम्हारा सेलेक्शन नहीं हुआ तो क्या हुआ तुम देश की सेवा सेना में न रहकर भी कर सकते हो। इस देश के जनता की सेवा भी देश की सेवा ही हुआ। तुम जनता की सेवा करो और जरूरतमंद लोगों की सहायता करो। तब से जनता की सेवा ही खान सर का लक्ष्य है।


उन्होंने देश की सेवा के लिए एक अनाथालय भी खोला है जिसमें गरीब और अनाथ बच्चे रहते हैं। उनको किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होने देते है ताकि बच्चों को कभी भी अपने माँ-बाप की कमी महसूस नहीं हो। उन्होंने आवारा गायों के लिए एक गौशाला भी खोल रखा है।


खान सर की शादी | Khan Sir Marriage Life


अगर खान सर की शादी के बारे में बात करें तो इनकी शादी अभी नहीं हुई है लेकिन सगाई दो साल पहले ही हो चुकी है। मई 2020 में इनकी शादी भी होने वाली थी लेकिन कोविड19 की वजह से इनकी शादी रुक गयी। खान सर की पत्नी के बारे में बात करें तो इनकी मंगेतर बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में एक डॉक्टर है।


खान सर की शिक्षा | Khan Sir Patna Success Story In Hindi


आइये अब जानते हैं खान सर की शिक्षा के बारे में। अगर हम इनके शिक्षा के बारे में बात करें तो खान सर की प्रारंभिक शिक्षा गोरखपुर से ही पूरी हुई। खान सर की पढ़ाई में बचपन से ही बहुत रुचि रखते थे। जब वे 9वें क्लास में थे तब उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने लगे।


जब 10वीं कक्षा में गए तो पॉलीटेक्निक की तैयारी की और जब 12वीं में गए तो ALEEE की तैयारी करने लगे। पर संयोग की बात है जिस दिन उनकी परीक्षा थी उस दिन वे सोए ही रह गए, क्योंकि रात भर जग कर परीक्षा की तैयारी करने में लगे थे।


पर आपने एक कहावत तो सुनी ही होगी कि जो भी होता है अच्छे के लिए होता है। अगर खान सर उस दिन परीक्षा के लिए सही समय पर उठ गए होते तो आज हमलोग इनके बारे में कुछ नहीं जानते और इनके ज्ञान का भंडार हमारे नसीब नहीं होता।


खान सर के इतने सारे विषयों में इतनी जानकारी होने का सबसे बड़ा कारण ये है कि वो हर परीक्षा की तैयारी करके अपनी ज्ञान की सीमा को बढ़ाते रहते थे। उन्होंने अपना स्नातक की पढ़ाई फिजिक्स और केमिस्ट्री ओनर्स से इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से किया।


ये भी पढ़ें:- मुंबई इंडियन्स के युवा क्रिकेटर अर्जुन तेंदुलकर का जीवन परिचय।


खान सर स्नातक की पढ़ाई के दौरान तीन बार जेल भी जा चुके हैं। जब वो कॉलेज में थे तब वो स्टूडेंट्स यूनियन के सदस्य थे तो विद्यार्थियों के हित में लड़ते हुए तीन बार जेल जाना पड़ा। अपने स्नातक की पढ़ाई की पूरी करने के बाद उन्होंने P.Hd किया। इसके साथ-साथ वे मानचित्र विशेषज्ञ भी है।


जब खान सर छोटे थे तब वे बिहार में अपने ननिहाल अक्सर आया जाया करते थे। जिससे उनको बिहार से लगाव और ज्यादा बढ़ता चला गया। वे अपने आसपास के लोगों से बिहार के महापुरुषों के बारे में बहुत ही बारीकियों से जानते थे।


जब वो बड़े हुए तो उनको इस बात का एहसास हुआ कि कैसे हमारा समाज राजनीतिक कुरीतियों के कारण बदतर होता जा रहा है। गरीब बच्चे ढंग से शिक्षा भी प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं और बंधुआ मजदूरी कर रहे हैं। ये सब देखकर उन्होंने प्रण किया कि बिहार में बच्चों को सस्ती और क्वालिटी शिक्षा दूँगा। जिससे लोग आसानी से पढ़ सकें और गरीब बच्चे भी इस समाज में आगे बढ़ सके।


Khan GS Research Centre Patna Owner Name & History In Hindi

Khan gs research centre owner name and history in hindi, khan sir patna biography in hindi
Khan GS Research Centre History

उनका मानना है कि शिक्षा उस शेरनी का दूध है जिसने उसे पिया है उसने जरूर दहारा है। अपने इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए वे बिहार में Khan GS Research Centre की स्थापना की। जिसमें वे बिल्कुल सस्ते फीस पर हर प्रकार के competetive एग्जाम की तैयारी करवाते हैं। इसके साथ ही उन्होंने पटना की सबसे बड़ी पुस्तकालय की भी स्थापना की है।


शुरुआत में उनकी कोचिंग बिल्कुल कम बच्चों तक ही सीमित थी। परन्तु जल्द ही अपने पढ़ाने के विशेष शैली के वजह से बच्चों की संख्या लगातार तेजी से बढ़ती चली गयी। तब उनको अपने कोचिंग को एक कोल्ड स्टोरेज में शिफ्ट करना पड़ा।


जल्द ही इस बड़े से कोल्ड स्टोरेज में भी बच्चों की संख्या बढ़ने के कारण बैठने तक कि जगह नहीं बची। इनके कोचिंग में इतनी भीड़ बढ़ गयी कि कुछ बच्चों को खड़े होकर ही पढ़ना पड़ता था। बच्चों के कठिन परिश्रम को देखकर खान सर ने ऑनलाइन लाइफ क्लासेज शुरू किया। जिसमें पटना में ही रहकर पढ़ाते थे परन्तु ऑनलाइन हो जाने के वजह से पूरे देश के बच्चे आसानी से पढ़ पाते हैं।


खान सर ने अपने ट्यूशन की फीस को गरीब बच्चों के लिए बहुत ही कम कर दी है। जिससे कि ज्यादा से ज्यादा बच्चे उनके कोचिंग में पढ़ाई कर सकें। खान सर का मकसद यहीं रहता है कि पैसों की वजह सर कोई भी बच्चा उनके कोचिंग सर लौट कर वापस नहीं जा पाए।


खान सर के इस कदम से बहुत ही कम समय में उनके ट्यूशन से जुड़ गए। वो अपनी कोचिंग में हर धर्मी के त्योहार को बड़ी ही धूमधाम से मनाते हैं। त्योहार मनाते समय वो किसी भी जाति को लेकर किसी तरह का भेदभाव नहीं करते हैं। खान सर कहते हैं कि आजादी से पहले हम सिर्फ हिंदुस्तानी थे पर विभाजन के वजह से हम हिन्दू और मुस्लिम में बंट गए।


आपने एक कहावत तो जरूर सुनी होगी कि आप जितनी तेजी से कामयाब होते हैं तो आपके दुश्मन भी उतनी ही तेजी से बढ़ते जाते हैं। अपने देश सेवा के सपनों को साकार करने के रास्ते में खान सर के दुश्मन भी बहुत तेजी से बढ़ते चले गए। उनको अक्सर अपने कोचिंग संस्थान बंद करने की धमकी मिलती रहती है। पर खान सर उनसे डरे बिना अपने कोचिंग संस्थान को लगातार चलाते रहे और एक से बढ़कर एक बुलंदियों को छूते रहे।


ये भी पढ़ें:- हिंदी गायन के बेताज बादशाह अरिजीत सिंह का जीवन परिचय।


एक बार की बात है जब 11 मई 2019 को सुबह 9 बजकर 45 मिनट के करीब खान सर के इंस्टिट्यूट पर बम से हमला किया गया और वहाँ उपस्थित शिक्षकों और बच्चों को लाठी तथा डंडों से पीटा गया। इसके बावजूद भी खान सर डरने वालों में से नहीं है। बल्कि अपने इरादों को और भी मजबूत करते हुए उन्होंने प्रण किया कि अगर तुम हमें मार भी दोगे तब भी हम संस्थान को बंद नहीं होने देंगे।


खान सर बच्चों को पढ़ाते समय हमेशा बच्चों को मोटिवेट करते रहते हैं और समाज सेवा करने की अपील करते रहते हैं। उनका मानना है कि हमारा जीवन दूसरों के लिए समर्पित होना चाहिए यहीं हमारे जीवन का लक्ष्य होना चाहिए।


खान सर अपने यहाँ पढ़ने वाले बच्चों को कहते हैं कि बिहार का पूरा भारत में एक गौरवशाली इतिहास रहा है। चन्द्रगुप्त मौर्य और चाणक्य ने अखंड भारत की शुरुआत यहीं से की थी और यहाँ पर आर्यभट्ट जैसे महान गणितज्ञ ने जन्म भी लिया था।


पर पिछले कुछ सालों से राजीनीतिक कुरीतियों के कारण ये राज्य अपना सम्मान खोता जा रहा है। इसलिए हमको फिर से अपने बिहार को पुराना मगध बनाना है। 20 मार्च 2020 तक खान सर का इंस्टीट्यूट सुचारू रूप से चल रहा था। परन्तु 21 मार्च से lockdown लगने के कारण बच्चों का इंस्टिट्यूट में आना बंद हो गया।


जिसके कारण उन्होंने अपना ऑनलाइन क्लास अपने यूट्यूब चैनल Khan GS Research Centre पर शुरू कर दिया। शुरुआत में लोग इनको इग्नोर कर रहे थे। लेकिन जिसने भी इनके पढ़ाने का शैली एक बार देखा बस उनका फैन होता चला गया और धीरे-धीरे इनकी लोकप्रियता बिहार के अलावा पूरे देश में फैल गया। आज देश के हर कोने से बच्चे खान सर के यहाँ पढ़ना चाहते हैं।


खान सर के यूट्यूब चैनल पॉपुलर होने का कारण ये है कि ये अपने हर वीडियो के अंत में समस्याओं का हल जरूर बताते हैं। इनके कई वीडियो को बॉलीवुड के बड़े-बड़े हस्तियों ने भी अपने ट्विटर पर शेयर किया है।


Khan GS Research Centre Youtube Income In Hindi | खान सर की नेट वर्थ


आपके जानकारी के लिए बता दें कि खान सर अपने पैसों का अधिकांश भाग समाजिक सेवाओं में लगा देते हैं। फिर भी इनके यूट्यूब वीडियो के व्यूज के हिसाब से खान सर का मासिक आय लगभग 10 लाख सर ऊपर है।


ये भी पढ़ें:- राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह की जीवनी।


इसके अलावा इनका एक App भी है जिसमें केवल 2 लाख बच्चों के लिए ही रजिस्ट्रेशन allow है। एक बच्चे के लिए 99 रुपये का फीस रखा गया है जिसके हिसाब से लगभग 2 करोड़ रुपये हुए। साथ ही इनके कमाई का सबसे बड़ा स्रोत पटना में स्थित इनका कोचिंग संस्थान है। जिसमें हजारों की संख्या में बच्चे पढ़ते हैं।


Khan Sir Book


दोस्तों अगर आप खान सर के बुक पढ़ना चाहते हैं और उसमें छिपे अनमोल ज्ञान को प्राप्त करना चाहते हैं तो आप बहुत ही कम दाम पर बुक को ऑनलाइन क्लिक करके आर्डर कर सकते हैं।

2. Kiran NCERT History Class V1 to X11 6000 Questions By Khan Sir

3. Kiran Science Numerical Physics & Chemistry Questions 3 Book Set

4. Basic Of Civil Objective Book

5. General Science+11000 Gk Questions


Khan GS Research Centre Contact Number & Address


वैसे तो खान सर के बारे में पटना के हर एक बच्चा बता सकता है। लेकिन अगर आप वहाँ जाना चाहते हैं तो Khan GS Research Centre का पता किसान कोल्ड स्टोरेज पटना 800006 है। साथ ही अगर आप उनके कोचिंग संस्थान के बारे में और कोई और जानकारी जानकारी जानना चाहते हैं तो आप Khan GS Research Centre का contact नम्बर पर फोन करके पूछ सकते हैं।

1. 8877918018
2. 8757354880


Khan Sir Official App Download link


अगर आप खान सर के द्वारा उनके कोचिंग संस्थान में नहीं पढ़ पा रहे हैं और आप इनके द्वारा बांटे गए ज्ञान को अर्जित करना चाहते हैं तो आप इनके ऑनलाइन क्लास से जुड़कर भी पढ़ सकते हैं। इसके लिए आप खान सर के ऑफिशियल app अभी डाऊनलोड कर सकते हैं।


Khan Sir Official


खान सर पटना वाले कि कथन | Khan Sir Patna Best Quotes In Hindi


● लुढ़कते हुए पत्थरों पर कभी काई नहीं जमती है बल्कि ठहरा हुआ पानी अक्सर खराब हो जाता है। इसलिए अपने ज्ञान की सीमा और भी ज्यादा बढ़ाते रहें।
● शिक्षा उस शेरनी का दूध है इसको जिसने भी पिया है उसने दहाड़ा है।
● दुनिया के हर समस्या का एक ही दवा है एक सच्चा दोस्त।
● जिम्मेदारी ऐसी चीज होती है जो रातों की नींद छीन लेती है।
● समय को बर्बाद मत कीजिये। दुःख की बात ये है कि समय बहुत कम है और सुख की बात ये है कि समय अभी भी है।


उम्मीद है कि आपको खान सर की बायोग्राफी से काफी कुछ सीखने को मिलेगा। साथ ही आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको खान सर पटना की जीवनी कैसी लगी? अगर आपको किसी और देशभक्त कि बायोग्राफी चाहिए तो कमेंट बॉक्स में लिखना मत भूलिएगा।


ये भी पढ़ें:- दुनिया के सबसे क्रांतिकारी आदमी एलन मस्क का जीवन परिचय।