Movie review लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Movie review लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
No One Gets Out Alive Netflix Movie Review In Hindi

No One Gets Out Alive Netflix Movie Review In Hindi

No One Gets Out Alive Netflix Movie Review In Hindi | बेस्ट हिंदी हॉरर फिल्म


दोस्तों, अगर आप बहुत दिनों से कोई अच्छी हॉरर मूवी नहीं देखी है, जिसे देखकर आपको चीखें निकल जाए लेकिन आपको लगता है कि ऐसी को मजेदार हॉरर फिल्म नहीं आ रही है तो आपका इंतजार खत्म होने वाला है।


जी हां एक ऐसी फिल्म Netflix पर रिलीज हो चुकी है। जिसका नाम No One Gets Out Alive है। आप इसके नाम से अंदाजा लगा सकते हैं कि ये फिल्म दर्शकों को कितना डराएगी और रोमांचित करेगी?


इस फ़िल्म में क्या खास है इसकी कहानी क्या है और ये फ़िल्म आपको क्यों देखनी चाहिए इन सभी बातों की जानकारी के लिए No One Gets Out Alive Netflix Movie Review In Hindi के माध्यम से पूरी विस्तार से जानते हैं।


No One Gets Out Alive Netflix Movie Story In Hindi


अगर इस फ़िल्म की कहानी की बात किया जाए तो फ़िल्म 2014 में लिखी गयी एक उपन्यास के ऊपर आधारित है। इस फ़िल्म को Netflix ओर हिंदी भाषा मे भी रिलीज किया जा चुका है। फ़िल्म में एक ऐसी लड़की की कहानी बताई गई है जो बड़े सपने लेकर अमेरिका आती है। उस लड़की का नाम Amber है।


फ़िल्म में Amber अपने सपने को पूरा करने के लिए अमेरिका तो जाती है, लेकिन amber की लाइफ उस समय बदल जाती है जब इसको न चाहते हुए भी एक पुराने से बोर्डिंग हाउस में रूम लेना पड़ता है, जो कि भूतिया होती है।


आपको ये बताने की जरूरत नहीं होगी कि किसी भी हॉरर फिल्म में एक भूतिया घर होता है और उसमें कोई बाहर से रहने आता है, जो कि उसका पीछा नहीं छोड़ता है।


ठीक ऐसी ही स्टोरी है इस फ़िल्म की। लेकिन इस फ़िल्म की स्टोरी सुर दृश्य अन्य सारी हॉरर फिल्म से थोड़ी अलग है। फ़िल्म शुरुआत में थोड़ी धीमी जरूर है, लेकिन दूसरे हाफ में ये फ़िल्म ऐसी धूम मचाती है कि पल भर में वक्त बदल जायेगा, हालात बदल जायेगा, जज्बात बदल जायेगा।


फिल्म में इतनी डरावनी सस्पेंस देखने को मिलेगा जो आपको पल भर के लिए भी बोर नहीं होने देगी। पल भर में क्या हो जाएगा आप बिल्कुल भी अंदाजा नहीं लगा सकते हैं। हर एक सीन काफी बेहतरीन ढंग से सूट किया गया है।


अगर इस फ़िल्म को इस साल के सबसे बेहतरीन हॉरर फिल्म कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होनी चाहिए।


ये भी पढ़ें: जेम्स बांड की नई फिल्म No Time To die Review In Hindi.


इस फ़िल्म में भूत के शक्ति को इतना ज्यादा दिखाया गया है कि क्या इसे झाड़-फूंक या मंत्रो से वश में किया जा सकता है या नहीं ये अभी नहीं बताने वाले हैं, क्योंकि इस सीन को आप खुद देखेंगे तो काफी मजा आने वाला है। इसलिए इस राज को राज ही रहने देते हैं।


एक लाइन में इस फ़िल्म के लिए कहा जाए तो इस No One Gets Out Alive की स्टोरी काफी अच्छी है, जिससे आप एक पल के लिए भी बोर नहीं होने वाले हैं। आपको कौन सा दृश्य कब अंदर तक डरा जाएगा आप बिल्कुल अंदाजा नहीं लगा सकते हैं।


अगर आपको बहुत दिनों से किसी अच्छे horror movie का इंतजार होगा तो ये फ़िल्म आपका इंतजार कर रही है। एक बार तो इसे जरूर देखना चाहिए।


इस फ़िल्म की संरचना काफी ज्यादा लुभाती है। अगर इसके म्यूजिक और बैकग्राउंड दृश्य के बारे में बात किया जाए तो ये इस फ़िल्म की जान है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस फ़िल्म के बीच-बीच में डाले गए साउंड क्वालिटी और इफेक्ट्स आपको पल भर के लिए भी ऊबने नहीं देगी।


इसमें डाले गए हर एक साउंड इफेक्ट्स आपको हमेशा डराती रहेगी। इसलिए इस फ़िल्म को बहुप्रतीक्षित हॉरर मूवी कहा जा सकता है। आपको ये फ़िल्म एक बार तो जरूर ही देखना चाहिए।


फ़िल्म के शानदार होने का पूरा श्रेय फ़िल्म निर्माता को जाना चाहिए, क्योंकि इन्होंने फ़िल्म के हर एक सीन को इतना लाजवाब बनाया है कि उसकी कोई सानी नहीं है। फ़िल्म का दूसरा हाफ इसका जान है।


फ़िल्म में जितने भी किरदार है सबने बहुत बढ़िया एक्टिंग किया है, खासकर के Amber का किरदार।


Lesser Point Of No One Gets Out Alive In Hindi


अगर इस फ़िल्म के कमियों के बारे में बात किया जाए तो इस फ़िल्म में उतनी कोई खास कमी नजर नहीं आती है। हाँ आपको कुछ देर के लिए ऐसा महसूस जरूर हो सकता है कि शायद ऐसा पहले भी देखा है।


लेकिन इस फ़िल्म के अंदर कुछ ऐसी unique चीज है जो आपको अभी नहीं बता सकते हैं। आपको इस फ़िल्म को देखने के दौरान पता चल जाएगा।


फ़िल्म में अधिक डरावनी दृश्य होने के वजह से आप सभी को एक सलाह देना चाहेंगे कि कमजोर दिल वाले इस फ़िल्म को नहीं देखें। लेकिन अगर आप horror movie देखने के शौकीन हैं तो इस फ़िल्म को जरूर देखें।


No One Gets Out Alive Rating


अगर इस फ़िल्म के रेटिंग के बारे में बात किया जाए तो इस फ़िल्म को 10 में से 8 रेटिंग मिलना ही चाहिए। इस फ़िल्म को आप फैमिली के साथ भी देख सकते हैं। अगर आप सचमुच हॉरर फिल्म के दीवाने हैं तो ये फ़िल्म केवल और केवल आपके लिए बनी।


दोस्तों, हमें पूरी उम्मीद है कि आपको No One Gets Out Alive Review In Hindi आपके काफी हेल्प करेगा। अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें धन्यवाद।।

ये भी पढ़ें:-

साईं पल्लवी love story मूवी रिव्यू।

Squid Game Review In Hindi.

आईपीएल लाइव कैसे देखें?

टी20 वर्ल्ड कप 2021 मोबाइल पर कैसे देखें?

Love Story South Movie Review In Hindi

Love Story South Movie Review In Hindi

Love Story Movie Review In Hindi | लव स्टोरी मूवी के असली सच्चाई


दोस्तों साउथ की फिल्में अपने बेहतरीन कहानी और एक्टिंग के लिए पूरी दुनिया में जानी जाती है। एक तरफ जहां इसके स्टोरी की कोई सानी नहीं होता है तो दूसरी तरफ एक्टिंग में सबका दिल जीत लेते हैं।

ऐसी भी एक फिल्म आयी है जिसका नाम Love Story है। ये फिल्म इतनी अच्छी है कि एक बार तो इसको देखना ही पड़ेगा। आखिर ऐसा क्यों कहा जा रहा है जब आप इसकी कहानी जानेंगे तो आपके देखे बिना नहीं रहा जाएगा।

लेकिन ये फिल्म में ऐसा क्या है कि सबको इतना आकर्षित कर रही है इसकी पूरी जानकारी के लिए love story movie review in hindi को अंत जरूर पढ़ियेगा।

Love Story Movie Release Date


साउथ की चर्चित अभिनेत्री साईं पल्लवी और नागा चैतन्य की ये बहुप्रतीक्षित फ़िल्म 24 सितंबर 2021 से दर्शकों के लिए उपलब्ध होगी।

Love Story Movie की कहानी


इस फ़िल्म में रेवंत और मौनी अपने जीवन भर साथ निभाने के लिए बड़े-बड़े सपने देखते हैं। लेकिन हमारे समाज में अपनी प्रतिष्ठा और लिंग भेदभाव बहुत बड़ी बाधा उत्पन्न करती है। ऐसे में क्या वे अपने मंजिल को इतनी सारी बाधाओं को तोड़कर अपने प्यार को कायम रख पाएंगे।

ये फ़िल्म बस इसी के इर्द-गिर्द घूमती रहती है। लेकिन इन सबके बीच फ़िल्म में क्या होता है ये सब जानने के बाद आप इनके प्यार को सलाम करेंगे। आइये इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।

Love Story 2021 Movie Review In Hindi

Love story movie review in hindi, love story 2021 movie
Love Story movie Review In Hindi

इस फ़िल्म में नागा चैतन्य और साईं पल्लवी एक ऐसी फिल्म है जिसमें प्यार, जातिगत असमानता और लैंगिक मुद्दों के होने के बावजूद इनके शानदार अभिनय ने लोगों का दिल जीत लिया है।

यह फ़िल्म दर्शकों का मनोरंजन करने और उन सामाजिक मुद्दों को संबोधित करने के बीच एक संतुलन बनाये रखता है जो अक्सर उन कहानियों में जगह नहीं पाते हैं जिन्हें हम आमतौर पर देखते हैं। प्रेम कहानी शेखर कम्मुला की प्रेम कहानी है।

फ़िल्म की असली कहानी तब शुरू होती है जब रेवंत (नागा चैतन्य) अपनी खुद की पहचान बनाने के लिए आर्मूर से निजामाबाद शहर आता है। उसको छोटी सी उम्र से ही जातिगत असमानता का सामना करना पड़ता है। 

जातिगत असमानताओं के बीच उसकी मां (ईश्वरी राव) ने अपने बेटे को समझाती है कि कड़ी मेहनत करने से दुनिया में हर चीज को पाना संभव है। इसी बीच मौनी (साई पल्लवी) भी अपना घर छोड़कर हैदराबाद भाग जाती है। केवल एक ऐसे परिवार से अपनी स्वतंत्रता का दावा करने के लिए जो उसे समझ में नहीं आता है, बल्कि उसके अतीत के कुछ राक्षसों से भी।

भले ही वह अपनी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए संघर्ष करता हो लेकिन उसका अपना ज़ुम्बा केंद्र भी है। वह एक आईटी नौकरी हासिल करना चाहती है जबकि उसका दोस्त रेवंत उसे अपनी जुम्बा क्लासेज में मदद करने के लिए प्रोत्साहित करता है लेकिन उसने तब तक हिम्मत नहीं हारी जब तक कि उसे वह नहीं मिल जाता जो उसे चाहिए। 
इस फ़िल्म में बारिश में फिल्माए गए गाने बेहद खूबसूरत हैं, इनमें ढेर सारा प्यार, संवेदनशीलता, समझ और थोड़ा गुस्सा भी है।

इस फ़िल्म में शेखर कम्मुला कहते हैं कि 'बड़े शहर' का सबसे बड़ा झूठ यह है कि यह सभी को उनकी जाति या लिंग के बावजूद समान अवसर प्रदान करता है। यहां तक ​​कि कोई भी वास्तव में बराबर नहीं है।

रेवंत के घर का मालिक लीक हुए मैनहोल की सफाई का काम खुद करने के बजाय उसे सौंपने में सहज महसूस करता है।  एक दृश्य में उन्होंने यहां तक ​​​​कहा है, "मीरंथा इंथे," किसी ऐसे व्यक्ति द्वारा गुस्से में जिसे वह अपना प्रिय मानता है।

मौनी को अक्सर कहा जाता है - नी वल्ला काड़। इतनी बार कि आप उस पर विश्वास करते हैं जब वह कहती है - निकू दिल ने अब्बा को ले लिया। फिल्म के माध्यम से दोनों एक-दूसरे की मदद से खुद को बचाए रखने में कामयाब होते हैं। दोनों अपने घरों के बीच अपना प्यारा पुल भी बनाते हैं।

लेकिन गंगव्वा की बदौलत फ़िल्म मजेदार पलों के साथ एक हल्के-फुल्के मनोरंजन के रूप में जो शुरू होता है वह फिल्म के आगे बढ़ने के साथ भारी होता जाता है। यहां तक ​​​​कि मौनी सारंगा दरिया पर नृत्य करती है और रेवंत एक साथ अपने भविष्य की योजना बनाते हैं।

एक युवा जोड़े को वे जानते हैं कि एक भाग्य से मिलता है जो उन्हें कोई उम्मीद नहीं देता है। ऐसे दृश्य जहां रेवंत हताशा में चिल्लाता है और मौनी यह स्पष्ट करती है कि घर की महिलाओं को नियंत्रित करने की आवश्यकता नहीं है। यह पुरुष हैं, फिल्म पूरी होने के बाद लंबे समय तक आपके साथ रहें।

इस फ़िल्म को देखने के बाद आपको एहसास होगा कि नागा चैतन्य रेवंत के साथ अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनों में से एक को आसानी से प्रस्तुत करते हैं। उन्हें एक ऐसा चरित्र सौंपा गया है जो संवेदनशील, विनम्र, एक लड़की की सीमाओं को समझने वाला और कोई ऐसा व्यक्ति है जो प्यार के लिए कोसो मील जाने से नहीं डरता है।

साईं पल्लवी जब नृत्य करती हैं तो उन्हें देखना एक सपना के जैसा है, जब वह प्रदर्शन करती हैं तो देखकर खुशी होती है। जब भी वह किसी पुरुष के स्पर्श पर रोती है, तो आप रोते हैं, जब वह रोती है तो आपका दिल टूट जाता है और जब वह रेवंत में एक भरोसेमंद साथी ढूंढती है, तो उसका दिल टूट जाता है।

राजीव कनकला को एक ऐसा रोल दिया गया है जो डायलॉगबाजी के साथ सामान्य खलनायक से परे है। वह हमेशा की तरह भरोसेमंद रहता है और उसे जो चाहिए होता है उसे खींच लेता है।

फ़िल्म देखने के बाद कहा जा सकता है लव स्टोरी ऐसी फिल्म नहीं है जिसमें कमियां हों। अन्यथा यथार्थवादी फिल्म में, उत्तेज का कैरेक्टर कपल की मदद करने के लिए किसी भी योजना का इतना अनोखा बनाता है जिसे देखकर आपकी हंसी नहीं रुक सकती है।

लेकिन फिर भी यह स्पष्ट करता है कि ऐसे कठोर उपायों की आवश्यकता है। क्लाइमेक्स भी रेवंत को उसके हीरो जैसा अनुभव को प्राप्त करने में मदद करता है। 

Love Story Movie Real Review In Hindi


कुछ लोग यह भी शिकायत कर सकते हैं कि फिल्म कुछ जगहों पर जरूरत से ज्यादा लम्बा 'खींचती' है, कुछ दृश्यों को घर ले जाने के लिए रखा गया है जिसे पहले ही नोट किया जा चुका है।

इसे देखने के बाद कुछ लोग कह सकते हैं कि दो व्यक्तियों की कहानी के केंद्र रखकर बनाया गये इस फ़िल्म में कुछ भी नया नहीं है जो अपने परिवारों को अपने प्यार के लिए मनाने की कोशिश कर रहे हैं।

साथ ही साथ इस फिल्म के माध्यम से मौनी के अतीत के बारे में बड़े खुलासे के लिए कथानक बिंदुओं को बताती है, यह आपको आश्चर्यचकित कर सकता है।

कुल मिलाकर फ़िल्म जातिगत असमानता और बाल यौन शोषण दोनों को संवेदनशीलता के साथ संभालने और कहानी को आगे बढ़ाने के लिए स्टोरी के रूप में उपयोग नहीं करने के लिए बधाई के पात्र हैं।

भले ही हाल के दिनों में टॉलीवुड द्वारा जातिगत असमानता की कहानियों को उठाया गया हो, लेकिन ऐसा अक्सर नहीं होता है कि लव स्टोरी जैसी फिल्म को इतनी सावधानी से बताया जाता है और यह निश्चित रूप से अक्सर नहीं होता है कि समाज से जुड़ी मुख्यधारा को सिनेमा में महिलाओं के मुद्दों को दिखाया जाता है। अगर आप इस फ़िल्म के बारे में और भी गहराई से जानना चाहते हैं तो इस फ़िल्म को जरूर देखें।

Love Story Movie Cast Name | लव स्टोरी मूवी के कलाकारों के नाम


पुष्कर राम मोहन राव प्रोड्यूसर
शेखर कम्मुला डायरेक्टर
नागा चैतन्य अभिनेता (रेवंत)
साई पल्लवी अभिनेत्री (मौनी)
देवयानी अभिनेता
ईश्वरी रावअभिनेता
राजीव कनकला अभीनेता

आपको हमारा साउथ की नई रिलीज हुई love story movie review in hindi कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताइयेगा।
ये भी पढ़ें:-